Breaking News

कृषि व उद्योग को प्रोत्साहन

प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी की यूपी यात्रा का व्यापक महत्व रहा .देश के समग्र विकास में नगर और गांव दोनों शामिल है .इसके प्रति नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ की कटिबद्ध है. लखनऊ में उद्योग विकास का संकल्प दिखाई दिया .कानपुर देहात के परौंख में ग्राम विकास का मंसूबा था .य़ह सन्योग है कि लगभग इसी समय मोदी सरकार ने अपने आठ वर्ष पूरे किए .

इधर उत्तर प्रदेश में योगी सरकार को दुबारा जनादेश मिला है .दोनों सरकार समग्र विकास की दिशा में कार्य कर रहीं हैं. रामनाथ कोविंद, नरेन्द्र मोदी, आनन्दी बेन पटेल, और योगी आदित्यनाथ कानपुर देहात के ग्राम परौंख में आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में मेरा गांव मेरी धरोहर अभियान के अन्तर्गत आयोजित समारोह में सम्मिलित हुए थे . राष्ट्रपति ने पैतृक आवास मिलन केन्द्र को सार्वजनिक उपयोग के लिए दान कर दिया गया था.जिसे सामुदायिक केन्द्र मिलन केन्द्र के रूप में परिवर्तित कर दिया गया है। इसमें स्वयं सहायता समूहों की महिला सदस्यों को विभिन्न कार्याें के लिए प्रशिक्षित किया जाता है।

राष्ट्रपति ने कहा कि प्रधानमंत्री ने बाबा साहब के आधुनिक भारत के निर्माण के संकल्प के लिए अपनी प्रतिबद्धता व्यक्त की है। बाबा साहब मानते थे कि हमारे लोकतंत्र की जड़ें देश की प्राचीन परम्पराओं से ही अपनी जीवनी शक्ति प्राप्त करती हैं। भारतीय संस्कृति पर आधारित समावेशी तथा समरस समाज के निर्माण तथा गरीब, पिछड़े वर्ग के उत्थान के प्रति बाबा साहब जीवन भर संघर्षरत रहे। उनके आदर्शाें को जिस प्रकार प्रधानमंत्री ने कार्य रूप दिया है, वह सभी के लिए अनुकरणीय और अपने आपमें मिसाल है।

नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत की आत्मा गांव में बसती है, क्योंकि गांव हमारी आत्माओं में बसता है। भारत के गांव अध्यात्म, आदर्श, परम्पराओं,प्रगतिशीलता संस्कार,सहकार,ममता और समता के प्रतीक होते हैं। अमृत काल में ऐसे ही गांवों का पुनर्गठन, पुनर्जागरण करना हमारा कर्तव्य है। भारत के गांवों में तीव्र गति से सड़कों का निर्माण हो रहा है।, ऑप्टिकल फाइबर बिछाया जा रहा, आवास बन रहे हैं,एलईडी स्ट्रीट लाइटे लग रही हैं। शहरों के साथ हमारे गांव भी विकास के पथ पर कदम से कदम मिलाकर चलें, यह हमारा संकल्प है। ड्रोन जैसी तकनीक के प्रयोग से खेती किसानी से जुड़े मुश्किल से मुश्किल काम आसानी से किये जा रहे हैं। तकनीक के जरिये किसान की सुविधा और आमदनी दोनों बढ़े हैं, इस दिशा में और भी तेजी से कार्य किया जा रहा है।

जनधन योजना, आवास योजना, उज्ज्वला योजना, हर घर जल योजना,आयुष्मान भारत योजना आदि योजनाओं का लाभ करोड़ों गांववासियों को मिला है। गरीब कल्याण के लिए देश नेें तेजी से कार्य किया है.हमारा लक्ष्य है कि योजनाओं का शत-प्रतिशत लाभ प्रत्येक लाभार्थी तक बिना किसी पक्षपात के पहुंचे। समरसता और समानता के जिस सपने के साथ बाबा साहब ने देश को संविधान दिया था, वह सपना आज पूरा हो रहा है। आत्मनिर्भर भारत का अर्थ आत्मनिर्भर गांवोें से है।

राजधानी लखनऊ में उद्योग विकास का संदेश दिया गया .यहां ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी का आयोजन किया गया था . योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश को नंबर वन बनाने की यात्रा आगे बढ़ रहीं है .उत्तर प्रदेश वन ट्रिलियन इकोनॉमी वाला राज्य बनने की दिशा में अग्रसर है .प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी में अस्सी हजार करोड़ रुपये से अधिक के प्रोजेक्ट के निवेश प्रस्तावों का शुभारम्भ किया। उत्तर प्रदेश बीमारु राज्य की श्रृंखला के उठकर एक स्वावलम्बी और समर्थ प्रदेश बनने की ओर अग्रसर हुआ है।

About reporter

Check Also

पेरिस के ज्यूरिख एयरपोर्ट की तरह बनेगा जेवर, रनवे का काम हुआ शुरू

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by- @MrAnshulGaurav Tuesday, June 28, 2022 उत्तर प्रदेश। ...