Breaking News

बैंक लोन घोटाले में कई राज्यों में छापेमारी, पूर्व विधायक की कंपनी पर मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 750 करोड़ रुपये के बैंक लोन घोटाले में शुक्रवार को उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में छापेमारी की। ईडी को शक है कि बैंक लोन घोटाले में मनी लॉन्ड्रिंग हुई है। ईडी ने गंगोत्री एंटरप्राइजेज नामक कंपनी से जुड़े ठिकानों पर छापेमारी की है।

इस कंपनी के प्रमोटर यूपी के पूर्व विधायक विनय शंकर तिवारी, रीता तिवारी और अजीत पांडे हैं। विनय शंकर तिवारी यूपी के दिवंगत बाहुबली नेता हरिशंकर तिवारी के बेटे हैं। विनय शंकर तिवारी गोरखपुर की चिल्लुपार सीट से बसपा के टिकट पर विधायक चुने गए थे, लेकिन बाद में वे सपा में शामिल हो गए।

आरोप हैं कि गंगोत्री एंटरप्राइजेज ने साल 2012-2016 के बीच कई बैंकों के कंसोर्टियम से करीब 750 करोड़ रुपये का लोन घोटाला किया। बैंकों के कंसोर्टियम का नेतृत्व बैंक ऑफ इंडिया कर रहा है। ईडी ने शुक्रवार को इस घोटाले में यूपी के लखनऊ, गोरखपुर और नोएडा में छापेमारी की। साथ ही गुजरात के अहमदबाद और हरियाणा के गुरुग्राम में भी ठिकानों पर छापेमारी की गई।

गंगोत्री एंटरप्राइजेज सड़क निर्माण, टोल प्लाजा संचालन और अन्य सरकारी ठेके लेने का काम करती है। ईडी ने इस मामले में बीते साल नवंबर में करीब 72 करोड़ रुपये की संपत्ति भी जब्त की थी।

About News Desk (P)

Check Also

फन रिपब्लिक मॉल में कल से शुरू हुआ मैंगो फेस्टिवल

लखनऊ के जाने माने शॉपिंग डेस्टिनेशन फन रिपब्लिक मॉल में आज से यानी 24 मई ...