Breaking News

बल्ला बदलकर या बाजू मोड़कर की फिक्सिंग में शामिल होने की पुष्टि

क्रिकेट में मैच फिक्सिंग (Match Fixing) नयी बात नहीं है ये काला खेल लंबे समय से चल रहा है हाल ही में बांग्लादेश के स्टार ऑलराउंडर शाकिब अल हसन (Shakib Al Hasan) पर मैच फिक्सिंग की पेशकश की बात छिपाने के लिए दो वर्ष का प्रतिबंध भी आईसीसी ने लगाया है इतना ही नहीं, कर्नाटक प्रीमियर लीग (Karnataka Premier League) में भी फिक्सिंग को लेकर कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं इसी के तहत अब क्रिकेटरों  बुकी के बीच संवाद की नयी जानकारी सामने आई है इसमें बताया गया है कि आखिर क्रिकेटर लाइव मैच में बुकी को कैसे सिग्नल पहुंचाते थे

बेंगलुरु ब्लास्टर्स के पूर्व ओपनर एम विश्वनाथन (M. Vishwanathan) को वर्ष 2018 में खेली गई कर्नाटक प्रीमियर लीग (Karnataka Premier League) में फिक्सिंग (Fixing) के आरोपों में हिरासत में लिया गया है जाँच में पुलिस को पता चला है कि विश्वनाथन से बोला गया था कि वो हुबली टाइगर्स के विरूद्ध मैच में 20 गेंद में 10 रन से कम बनाएं इस मैच में विश्वनाथन ने 17 गेंद पर नौ रन बनाए थे 39 वर्षीय विश्वनाथन को पिछले सप्ताह ही बेंगलुरु ब्लास्टर्स के गेंदबाजी कोच वीनू प्रसाद (Vinu Prasad) के साथ हिरासत में लिया गया था उन पर मैसूर में 31 अगस्त 2018 को खेले गए मुकाबले में धीमी बल्लेबाजी के लिए 5 लाख रुपये लेने का आरोप है

विश्वनाथन (M. Vishwanathan)  प्रसाद (Vinu Prasad) कर्नाटक प्रीमियर लीग (Karnataka Premier League) 2018 के 18वें मैच में चंडीगढ़ के बुकी मनोज कुमार (Manoj Kumar) उर्फ मोंटी के जरिये स्पॉट फिक्सिंग में शामिल हुए पुलिस की जाँच के अनुसार, मनोज कुमार को प्रसाद से मिलाने का कार्य शिमोगा लायंस के निशांत सिंह शेखावत ने किया पुलिस के मुताबिक, 31 अगस्त के मैच के लिए हुई स्पॉट फिक्सिंग एक सप्ताह पहले ही तय कर ली गई थी प्रसाद ने मनोज कुमार के साथ एक होटल में मुलाकात कर सब तय किया था

मैच से एक दिन पहले एक्सरसाइज सत्र के दौरान प्रसाद (Vinu Prasad) ने विश्वनाथन (M. Vishwanathan) को इसमें शामिल किया  उसे बताया कि उसे मैच के दौरान कैसे सिग्नल देना है 31 अगस्त को खेले गए इस मैच में हुबली टाइगर्स ने बेंगलुरु ब्लास्टर्स को 118 रन का लक्ष्य दिया विश्वनाथन एक आक्रामक बल्लेबाज के तौर पर जाने जाते हैं, लेकिन उन्होंने इस मैच में 17 गेंदों पर 9 रन ही बनाए मैच में बल्लेबाजी के दौरान आठ गेंद खेलने के बाद विश्वनाथन ने बल्ला बदला  तीसरा ओवर समाप्त होने के बाद उन्होंने अपनी बाजू भी मोड़ ली ये दोनों इशारे बुकी को किए गए थे जिससे विश्वनाथन के स्पॉट फिक्सिंग में शामिल होने की पुष्टि हो सके

अन्य बुकी के सम्पर्क में भी था वीनू प्रसाद
पुलिस जाँच के अनुसार, गेंदबाजी कोच वीनू प्रसाद (Vinu Prasad) कई बुकी के सम्पर्क में था  खिलाड़ियों को फिक्सिंग (Fixing) में शामिल कराने का कार्य करता था मनोज कुमार के अतिरिक्त दो अन्य बुकी वेंकी  खान भी प्रसाद से जुड़े हुए थे विश्वनाथन (M. Vishwanathan)  प्रसाद पर धोखाधड़ी  आपराधिक साजिश का केस दर्ज किया गया है

पिछले दिनों पुलिस ने ‌बिजनेसमैन  केपीएल टीम बल्लारी टस्कर्स के मालिक अरविंद वेंकेटेश से भी पूछताछ ‌की केपीएल के इस सीजन में टस्कर्स के तेज गेंदबाज भावेश गुलेचा ने पुलिस को बताया था कि  बाफना के जरिए बुकीज उन तक भी पहुंचे थे इस तेज गेंदबाज को हर ओवर में दस रन से अधिक देने के लिए बोला गया था ऐसा भी माना जा रहा है कि केपीएल (KPL) के कुछ  खिलाड़ियों का भी नाम सामने आ सकता है

About Samar Saleel

Check Also

ओलंपिक में खेलेगी इस्राइली फुटबॉल टीम, फीफा ने संभावित प्रतिबंध पर फैसला टाला

फीफा ने इस्राइल को अंतरराष्ट्रीय फुटबाल से प्रतिबंधित करने के फलस्तीन के प्रस्ताव पर फैसला ...