Breaking News

देश भर की 62 छावनी क्षेत्रों के लिए केन्द्र ने दिया है प्रयाप्त अनुदान: रक्षा सचिव

लखनऊ। भारत सरकार के रक्षा सचिव डॉ. अजय कुमार ने आज (21 अगस्त) लखनऊ का दौरा किया। अपने एक दिवसीय दौरे के दौरान उन्होंने लखनऊ छावनी परिषद कार्यालय का दौरा किया। उन्होंने छावनी परिषद अस्पताल का भी निरीक्षण किया और वहां की सुविधाओं की सराहना की। लखनऊ छावनी के अन्तर्गत और अन्य छावनियों पर सीईओ और डीईओ लखनऊ विकास कुमार द्वारा दी गई एक प्रस्तुति की डॉ. अजय कुमार ने समीक्षा की।

  • केन्द्रीय रक्षा सचिव डॉ. अजय कुमार ने लखनऊ छावनी का दौरा किया
  • छावनी क्षेत्र के सिविल नागरिकों के जीवन स्तर को सुगम बनाने के लिए ई छावनी ऐप की महत्वपूर्ण भूमिका
  • मंगला देवी जूनियर हाई स्कूल के नए ब्लॉक का उद्घाटन किया

इस अवसर पर श्री राकेश मित्तल, संयुक्त सचिव, रक्षा विभाग, विभा शर्मा, अपर महानिदेशक रक्षा संपदा, जीएस राजेश्वरन, प्रधान निदेशक रक्षा संपदा (पीडीडीई) मध्य कमान, मेजर जनरल राजीव शर्मा, अध्यक्ष छावनी बोर्ड (पीसीबी) और जनरल ऑफिसर कमांडिंग (जीओसी) मध्य यूपी सब एरिया (एमयूपीएसए) सहित रक्षा संपदा मध्य कमान लखनऊ और कानपुर छावनी बोर्ड के अधिकारी भी उपस्थित थे। इसके अलावा परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष रूपा देवी, रतन सिंहानिया, सुमन वैश्य, प्रमोद कुमार शर्मा, अंजुम आरा, पूर्व पार्षद जगदीश प्रसाद, स्वाति यादव, अमित कुमार शुक्ला, संजय कुमार वैश्य, रीना सिंहानिया, अशफाक कुरैशी, समाज सेवी विकास यादव, पूर्व नामित सदस्य अरुण गुप्ता आदि ने भी संयुक्त रक्षा सचिव से मुलाकात की।

रक्षा सचिव ने लखनऊ छावनी के सुचारू संचालन और निवासियों के कल्याण के लिए की गई व्यवस्थाओं की सराहना की। रक्षा सचिव ने छावनी क्षेत्रों में रहने में आसानी और इज़ ऑफ डूइंग बिजनेस सुनिश्चित करने के लिए प्रौद्योगिकी के उपयोग पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि लोगों के जीवन को आसान बनाने के लिए काम करना सरकार की प्राथमिकता है और इसे सुगम बनाने में ई-छावनी ऐप की महत्वपूर्ण भूमिका का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि ऐप ने शिकायतों और छावनियों में रहने वाले लोगों की आवश्यकताओं के लिए त्वरित, कुशल और समयबद्ध प्रतिक्रिया सुनिश्चित की है। उन्होंने लखनऊ छावनी के जनप्रतिनिधियों से भी बातचीत की।

इससे पहले, दौरे के दौरान डॉ. अजय कुमार ने छावनी स्थित मंगला देवी जूनियर हाई स्कूल के एक नए ब्लॉक का उद्घाटन किया। अपने संबोधन में रक्षा सचिव ने देश भर में 62 छावनी क्षेत्रों के लिए सरकार द्वारा की गई पहलों पर प्रकाश डाला, जिसमें जनसंख्या के अनुसार अनुदान में वृद्धि, मामूली मरम्मत के लिए अनुमति की आवश्यकता को हटाना और व्यवसाय के लिए आवश्यक दस्तावेजों की संख्या को कम करना शामिल है। रक्षा सचिव ने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि देश के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने वाले वीरों की कहानियों को हमारे बच्चों तक पहुंचाना महत्वपूर्ण है। इस दिशा में, उन्होंने कहा कि भारत सरकार ने वीरता पुरस्कार पोर्टल ऑफ इंडिया (गैलंट्री अवॉर्ड्स पोर्टल ऑफ इंडिया) लॉन्च किया है, जिसमें सभी वीरता पुरस्कार विजेताओं का विवरण है। उन्होंने स्कूल के शिक्षकों और कर्मचारियों को स्कूल के लिए नया बुनियादी ढांचा प्राप्त करने के लिए बधाई दी। रक्षा सचिव ने भारतीय सेना के मध्य कमान के जीओसी-इन-सी लेफ्टिनेंट जनरल योगेंद्र डिमरी से मुलाकात भी की।

दया शंकर चौधरी

About Samar Saleel

Check Also

श्रीलंका को मिले भारत के 20 अत्याधुनिक रेल यात्री कोच

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें भारत द्वारा श्रीलंका को भेजे गए 20 अत्याधुनिक ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *