Breaking News

गाजीपुर फूल मंडी से बरामद हुए विस्फोटक का सीसीटीवी कैमरा में नहीं कैद हुआ फुटेज, ऐसे दिया गया था वारदात को अंजाम

दिल्ली पुलिस और एनएसजी को मानें तो गाजीपुर फूल मंडी से बरामद विस्फोटक इतना शक्तिशाली था कि अगर फट जाता तो करीब 40 मीटर एरिया को तबाह कर देता।

अधिकारियों के अनुसार बम का वजन दो से तीन किलोग्राम था। खास बात यह है कि जहां स्कूटी खड़ी थी उस जगह को सीसीटीवी कैमरा कवर नहीं कर रहा है।  आरडीएक्स व अमोनियम नाइट्रेट से मिलकर बम को बनाया गया है ।

फूल खरीदकर अनुपम जब वापस जाने लगा तो उसने स्कूटी पर बैग रखा देखा। उसने दुकानदारों से बैग के बारे में पूछा। दुकानदारों ने बैग की जानकारी होने के बारे में मना किया।

बीट अफसर को कुछ संदिग्ध लगा और उसने जिले के बम निरोधक दस्ते को मौके पर बुलाया। बम निरोधक दस्ते को भी बैग में संदिग्ध पदार्थ व बैटरी आदि दिखाई दिए। इसके बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल व एनएसजी की सूचना दी गई।

गाजीपुर में आईईडी(बम) मिलने के बाद देश व दिल्ली पुलिस के खुफिया विभाग पर सवाल खड़े हो गए हैं। हर वर्ष 26 जनवरी को देखते हुए आतंकी वारदात व दहशतगर्दों के देश व दिल्ली में घुसने के इनपुट होते हैं.

 

About News Room lko

Check Also

तो इस वजह से हरीश रावत को छोड़ना पड़ा रामनगर विधानसभा का रण, क्या इस बार हाथ लगेगी जीत

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें कांग्रेस के चुनाव अभियान के सेनापति हरीश रावत ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *