Breaking News

‘असुर’ और ‘पाताल लोक’ से आगे बढ़ें, शहर में आ गया है एक नया साइको ‘द किलर’

नं छिन्दन्ति शस्त्राणि नैनं दहति पावकः । न चैनं क्लेदयन्त्यापो न शोषयति मारुतः ॥ इसका मतलब है कि आत्मा को न तो किसी हथियार से काटा जा सकता है, न ही आग से जलाया जा सकता है, न ही पानी से भिगोया जा सकता है और न ही आत्मा को हवा सुखा सकती है। भगवद गीता का यह श्लोक कहानीकार सुधांशु राय की नवीनतम हिंदी थ्रिलर कहानी ‘द किलर’ के मुख्य पात्र की मनोस्थिति को दर्शाता है। यह कहानी एक ऐसे व्यक्ति के बारे में है जो एक के बाद एक निर्मम हत्याएं कर रहा है और अपने कर्मों को सही ठहराने करने के लिए इस श्लोक को उनका आधार बनाता है।

इस कहानी की शुरुआत डिटेक्टिव बूमराह के साथ होती है, जो बनारस में बारिश के मौसम में इस ‘किलर’ की गुत्थी सुलझाने के जद्दोज़हद में विलीन है। वह एक ऐसे सीरियल किलर के बारे में सुराग पाने की कोशिश कर रहा है जो अपने अपराध का कोई निशान नहीं छोड़ता। पीड़ितों के शरीर पर हमला करने या किसी भी घटनास्थल पर हत्यारे के आने अथवा जाने के कोई संकेत नहीं हैं। सभी पीड़ितों में केवल एक ही बात मिलती है की सबकी आखें मौत के बाद भी ऐसे खुली रहती हैं मानो अपनी आख़िरी सांस लेने के पहले किसी दृश्य ने उन्हें स्तब्ध कर दिया हो| इसके अलावा, प्रत्येक हत्या से पहले हत्यारा पौराणिक मंत्रों पर आधारित एक पहेली छोड़ता है जिसमें पीड़ित के बारे में सुराग होता है। हालांकि बूमराह के साथ-साथ पुलिस भी उन पहेलियों में छिपे संदेश को नहीं समझ पाती।

बूमराह के लिए राहत की पहली खबर तब आती है जब उसका सहायक सैम पास के गाँव के एक संदिग्ध व्यक्ति की सूचना लेकर आता है जिसका स्केच पुलिस बनवा चुकी है। इस सूचना के आधार पर डिटेक्टिव बूमराह बनारस से लगभग 40 किलोमीटर दूर स्थित छोटे से गाँव में पहुंचते हैं जहाँ उन्हें गांव वालों के गुस्से और नाराज़गी का सामना करना पड़ता है। लेकिन लोगों को समझा पाने की बूमराह की खूबी के कारण वे झील के बीच बनी उस झोपड़ी तक पहुंचने में कामयाब हो जाते हैं जहां संभवतः वह ‘सीरियल किलर’ रहता है।

झोपड़ी में बूमराह को उसकी जिंदगी का सबसे बड़ा आश्चर्य मिलता है। संदिग्ध हत्यारे के साथ बातचीत के दौरान डिटेक्टिव को एक पहेली मिलती है और उसके पैरों तले जमीन खिसक जाती है। उस पहेली में वास्तव में क्या लिखा था? वे कौन से प्रश्न थे जिनके आधार पर वह रहस्यमयी हत्यारा पीड़ितों के स्वर्ग या नर्क में जाने की घोषणा करता था? क्या बूमराह उस सीरियल किलर को दबोचने में सफल होगा? इन सभी सवालों के जवाब कहानीकार सुधांशु राय की ‘द किलर’ में छिपे हैं, एक ऐसी कहानी जो आपको स्वयं की वास्तविकता का पता लगाने के लिए मजबूर करेगी।

 

About Samar Saleel

Check Also

बॉयफ्रेंड सूरज नांबियार संग जल्द शादी के बंधन में बंधेंगी मौनी रॉय, खबर को किया कन्फर्म

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें नए साल में अब कई सितारें शादी के ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *