Breaking News

सड़क के गढ्ढों को रोकने में ब्रिटेन की सड़कों पर किया जा रहा ग्रेफीन का टेस्ट

सड़क पर होने वाले गड्ढों से जल्द ही मुक्ति मिल सकती है। दरअसल, ऑक्सफोर्डशायर गांव में ग्रेफीन-आधारित आश्चर्य सामग्री मिलाकर सड़क को बनाया गया है। इसका टेस्ट यूके में पहली बार किया गया है, जो दरारें बनाने से रोकने के लिए डिजाइन किया गया है। ग्रेफीन एक सबसे-मजबूत सामग्री है, जो विशेष रूप से संरचित कार्बन से बना है।

ऑक्सफोर्ड के पश्चिम में क्यूरब्रिज से मुख्य सड़क तक आश्चर्य सामग्री को 750 मीटर लंबी सड़क को बनाने के लिए बिछाने का काम शुरू कर दिया गया है। निर्माण को दस दिनों के भीतर पूरा किया जाना है। एक गीली, गड्ढे बनाने वाली ब्रिटेन की सर्दियों को देखते हुए इस टेस्ट के लिए सड़क को तैयार किया जा रहा है। सरफेसिंग प्रोडक्ट में पुनर्नवीनीकरण डामर के साथ ग्राफीन को मिलाया गया है, जो गर्मी में नरम पड़ने और ठंडा में दरार होने की आशंका को कम करता है।

डामर इंडस्ट्री एलायंस के अनुसार, इंग्लैंड और वेल्स में जर्जर सड़कों की वर्तमान बैकलॉग की मरम्मत में दस साल का समय और 12.6 अरब डॉलर का खर्च आएगा। परिवहन विभाग ने बताया कि साल 2018 में खराब सड़क की सतहों की वजह से 517 दुर्घटनाएं हुई थीं। इसमें से आठ सबसे घातक दुर्घटनाएं थीं। बताते चलें कि हीरे और ग्रेफाइट की तरह ही ग्रेफीन भी कार्बन का एक रूप है, जिसमें घटक परमाणुओं को मधुमक्खी छत्ते की तरह संरचित किया जाता है।

इस सामग्री के विभिन्न असामान्य गुण हैं जैसे यह क्रिस्टलीय रूप होता है और अब तक मापी गई सामग्रियों में सबसे मजबूत है। पहली बार साल 2004 में मैनचेस्टर यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने इसे खोजा था। यदि ऑक्सफोर्ड में किया जा रहा यह प्रयोग सफल हो जाता है, तो पूरे ब्रिटेन में अन्य स्थानों में सड़कों की मरम्मत के लिए ग्राफीन सरफेसिंग का इस्तेमाल किया जा सकता है। विभिन्न जलवायु परिस्थितियों में आगे के परीक्षण के लिए यूरोप और मध्य पूर्व के अन्य राजमार्ग प्राधिकरणों के साथ बातचीत की जा रही है। ओमान और अमेरिका दोनों के लिए पहले से ही टेस्ट की योजना बनाई गई है, जिसके साथ ही अगले साल शुरू होने की उम्मीद है।

About Samar Saleel

Check Also

ड्रैगन ने की जी7 की आलोचना, शिखर सम्मेलन के नेताओं पर लगाया चीन को बदनाम करने का आरोप

चीन ने इटली में हुए जी 7 शिखर सम्मेलन की आलोचना की। चीनी विदेश मंत्रालय ...