Breaking News

सुशासन की राह पर यूपी-बिहार एक साथ

बिहार व यूपी के साथ पर योगी आदित्यनाथ का बयान चुनावी चर्चा में रहा। उन्होंने बिहार के मतदाताओं से अपील करते हुए कहा कि अच्छे लोगों को चुनेंगे,तो यूपी और बिहार साथ मिल करके विकास करेंगे। भारत दुनिया की एक महान ताकत के रूप में आगे बढ़ेगा। इसके लिए पुनः नीतीश कुमार के नेतृत्व में राजग की सरकार बनानी होगी।

योगी आदित्यनाथ ने यूपी बिहार के साझा प्रयासों के साथ ही विरासत का भी उल्लेख किया। सांस्कृतिक विरासत के रूप में योगी ने श्री राम,माता सीता व महर्षि बाल्मीकि से संबंधित स्थानों का उल्लेख किया। कहा कि वह श्री राम की जन्मस्थली से महर्षि बाल्मीकि व माता सीता की इस स्थली पर आए है। मनुष्य जीवन में अपनी आध्यात्मिक और धार्मिक परम्पराओं का निर्वहन करते हुए हम लोग अपनी दिनचर्या को आगे बढ़ाते हैं। यही हमारे लिए जीवन का सौभाग्य होता है। इस पवित्र धरती पर जन्म लेकर आप लोग कर्मण्यता और परिश्रम से इस क्षेत्र के विकास को आगे बढ़ाने में योगदान दे रहे है। महर्षि वाल्मीकि और माता सीता की पावन धरातल को देश और दुनिया में एक नई ऊचाइयों तक पहुंचाने का कार्य कर रहे हैं।

योगी आदित्यनाथ ने बिहार के पश्चिम चम्पारण जिले के वाल्मीकि नगर में एक चुनावी जनसभा को सम्बोधित किया। उन्होंने भारत की ऋषि परम्परा के प्रतीक और रामायण महाकाव्य के माध्यम से भगवान श्रीराम को जनजन तक पहुंचाने वाले महर्षि वाल्मीकि की पावन स्थली को कोटि कोटि नमन किया। कहा कि शरद पूर्णिमा पर महर्षि वाल्मीकि की जयन्ती पर उत्तर प्रदेश में हर देव मन्दिर में रामायण पाठ का आयोजन हुआ।वाल्मीकि नगर वासी सौभाग्यशाली हैं जहां दुनिया के सर्वश्रेष्ठ महाकाव्य रामायण की रचना हुई। यह धरती माँ सीता की शरणस्थली बनी थी।

Loading...

योगी ने कहा कि बिहार माता सीता का मायका है। इसलिए हम सबके लिए महत्वपूर्ण है। सुशासन के द्वारा ही यूपी व बिहार को विकसित बनाया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक लाख सत्तर हजार करोड़ रुपये के एक विशाल गरीब कल्याण पैकेज की घोषणा करके हर गरीब के लिए मुफ्त राशन की व्यवस्था की। हर गरीब को निःशुल्क रसोई गैस के सिलेण्डर उपलब्ध कराने का कार्य प्रारम्भ हुआ। जनधन एकाउण्ट में गरीबों को पांच सौ रुपये देने की व्यवस्था की गयी। किसानों के खातों में दो हजार रुपये देने की व्यवस्था की गयी। वृद्धावस्था पेंशन, दिव्यांगजन पेंशन और विधवा पेंशन प्राप्त करने वाले जरूरतमन्द लोगों को एक हजार रुपये की राशि सहित अग्रिम पेंशन राशि उनके एकाउण्ट में ट्रांसफर की गयी। बिहार व यूपी के प्रवासी श्रमिको को सुरक्षित घर पहुंचाया गया। उस समय राजद व कांग्रेस केवल राजनीति कर रहे थे। इन लोगों को राहत पहुंचाने के लिए आत्मनिर्भर भारत पैकेज की घोषणा भी की गयी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश के अन्दर तीन करोड़ गरीबों को एक-एक आवास उपलब्ध करवाया गया है। चार करोड़ गरीबों को विद्युत के निःशुल्क कनेक्शन उपलब्ध करवाए गए। आठ करोड़ गरीबों को रसोई गैस का निःशुल्क कनेक्शन दिया गया। दस करोड़ गरीबों को एक एक शौचालय उपलब्ध करवाया गया। बारह करोड़ गरीब किसानों के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि में सलाना छह हजार रुपए की व्यवस्था की गई,पन्द्रह करोड़ युवाओं के लिए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के माध्यम से आर्थिक स्वावलम्बन का रास्ता निकाला गया।

इसके साथ ही,पैतीस करोड़ गरीबों के लिए जन धन एकाउण्ट बैंकों में खोले गए और अस्सी करोड़ लोगों को कोरोना काल में खाद्यान्न उपलब्ध कराने का कार्य प्रधानमंत्री मोदी जी के नेतृत्व में किया गया है। यानि विकास सबका, सम्मान सबका, योजनाओं का लाभ सबको,लेकिन तुष्टीकरण किसी का नहीं। योगी ने कहा किबिहार में राजद और कांग्रेस के नेतृत्व की सरकार को पन्द्रह वर्षों तक शासन करने का अवसर प्राप्त हुआ था। इन वर्षों में उन्होंने क्या किया। इन्होंने रोजगार नहीं दिया,गरीब को मकान नहीं दिया,बिजली के कनेक्शन नहीं दिए, रसोई गैस का कनेक्शन नहीं दिया,गरीबों को स्वास्थ्य बीमा का कवर भी नहीं दिया। इनके शासन काल में तो नौकरी और रोजगार बिकता था। गरीबों को खाद्यान्न नहीं मिलता था। यह लोग जानवरों का चारा भी चट कर जाते थे। यही तो इनकी पहचान थी।

डॉ. दिलीप अग्निहोत्री
डॉ. दिलीप अग्निहोत्री
Loading...

About Samar Saleel

Check Also

विश्वव्यापी हो गया है योग

रिपोर्ट-डॉ. दिलीप अग्निहोत्री लखनऊ विश्वविद्यालय ने अपने शताब्दी समारोह में योग को भी प्रमुखता से ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *