Breaking News

ICC WTC: भारत और इंग्लैंड के बीच यदि अगले दोनों मैच ड्रॉ हो गए तो किस टीम को होगा फायदा? जानिए

आईसीसी की ओर से विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का आयोजन 18 जून से लंदन के लॉर्ड्स क्रिकेट ग्राउंड में किया जाएगा। इस चैंपियनशिप के लिए भारत, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच कड़ी प्रतियोगिता देखने को मिल रही है।

भारत के हाथों दूसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड को करारी हार मिलने के बाद आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के लिए समीकरण बदल चुके हैं। भारत और इंग्लैंड के बीच होने वाले अगले दो टेस्ट मैच दोनों ही टीमों का भविष्य तय कर देंगे और ऐसा भी हो सकता है कि एक फायदा तीसरी ही टीम उठा जाए।

पहले बात इंग्लैंड टीम की

इंग्लिश टीम के पास फाइनल में पहुंचने का सिर्फ एक तरीका बचा है। वह यह है कि इंग्लैंड टीम अब को फाइनल में पहुंचने के लिए अगले 2 मैच हर हाल में जीतने होंगे। भारत के खिलाफ श्रंखला के दूसरे मैच में इंग्लैंड की हार ने उन्हें WTC स्टैंडिंग पर चौथे स्थान पर खिसका दिया है। इंग्लैंड के पास अब 67 प्रतिशत अंक हैं। चेन्नई में अपनी हार से पहले इंग्लैंड 70.2 प्रतिशत के साथ पहले स्थान पर था।

मुश्किल डगर

इंग्लैंड के लिए वास्तविकता में इस स्थान पर पहुंचना बहुत मुश्किल है। इंग्लिश टीम को श्रंखला के अंतिम दो टेस्ट मैचों में से प्रत्येक में भारत को हराना होगा। हालांकि श्रंखला का पहला टेस्ट जीतने के बाद इंग्लैंड टीम का आत्मविश्वास कम नहीं है। लेकिन इंग्लैंड की राह आसान नहीं है, क्योंकि एक तथ्य यह भी है कि 2013 के बाद से घर पर भारत की यह सिर्फ दूसरी हार थी। भारत को घरेलू मैदानों पर हराना एक चुनौतीपूर्ण काम है। अब इंग्लिश टीम के पास केवल एक समीकरण है: इंग्लैंड को 3-1 से श्रंखला जीतनी होगी।

Loading...

अब बात भारत की संभावना की

भारत श्रंखला के पहले मैच में हारने के बाद डब्ल्यूटीसी स्टैंडिंग में चौथे स्थान पर पहुंच गया था, लेकिन दूसरे मैच में अपनी जीत के बाद पॉइंट टेबल में दूसरे स्थान पर आ गया है। भारत को डब्ल्यूटीसी फाइनल में पहुंचने के लिए यह श्रंखला जीतनी होगी। भारत ने घर पर अपनी पिछली 12 श्रंखलाओं में से प्रत्येक में जीत हासिल की है। हालांकि इंग्लैंड ने भी दिखा दिया कि वे भारत में भारतीय टीम को हराने में सक्षम हैं। सिर्फ एक और हार से भारत के फाइनल में पहुंचने की उम्मीद खत्म हो जाएगी। भारत के पास फाइनल में पहुंचने के दो तरीके हैं। वह यह है कि भारत 2-1 से श्रंखला जीते या फिर 3-1 से श्रंखला जीते।

इसका अर्थ यह है कि यदि अगले दो मैच ड्रॉ हो जाते हैं या फिर इंग्लैंड सीरीज जीत जाता है तो भारत की फाइनल में पहुंचने की उम्मीद खत्म हो जाएगी। जबकि यदि एक मैच ड्रॉ होता है और एक मैच भारत जीत जाता है, तो भारत फाइनल में पहुंच जाएगा। यदि दोनों मैच भारत जीत लेता है, तब निश्चित तौर पर भारत फाइनल में होगा। वहीं इंग्लैंड को तो हर हाल में यह सीरीज जीतनी होगी। यदि अगला एक मैच भी ड्रॉ हो जाता है तो इंग्लैंड की उम्मीदों पर पानी फिर जाएगा।

यदि अगले दोनों मैच ड्रॉ हुए तो?

इसका फायदा सीधे तौर पर स्टेंडिंग में 69.2 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर काबिज ऑस्ट्रेलिया को मिल जाएगा। ऑस्ट्रेलिया के पास अब ये तरीका बचा है, या तो भारत और इंग्लैंड के बीच 1-1 ड्रॉ हो। या फिर भारत और इंग्लैंड 2-2 ड्रॉ हो जाए। या फिर इंग्लैंड 2-1 से जीत दर्ज कर ले। इसका अर्थ यह भी है कि इंग्लैंड एक भी ड्रॉ पचा पाने की स्थिति में नहीं है। इंग्लैंड की 2-1 से जीत के बाद भी ऑस्ट्रेलिया फाइनल में पहुंच जाएगी।

Loading...

About Ankit Singh

Check Also

IND v ENG 3rd Test : दोपहर 2.30 बजे से शुरू होगा मैच, राष्ट्रपति करेंगे मोटेरा स्टेडियम का उद्घाटन

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें भारत और इंग्लैंड के चार मैचों की टेस्ट ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *