Breaking News

महिला स्वास्थ्य जागरूकता अभियान : लखनऊ विश्वविद्यालय पहुंचा मोहनलालगंज और निगोंहां

लखनऊ: लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 आलोक कुमार के नेतृत्व में महिला स्वास्थ्य जागरूकता अभियान के तृतीय दिवस पर लखनऊ विश्वविद्यालय द्वारा मोहनलालगंज एवं निगोंहां के 12 और सरकारी माध्यमिक विद्यालयों में महिला स्वास्थ्य जागरूकता अभियान आयोजित किया गया।

जैसे-जैसे महिला स्वास्थ्य जागरूकता अभियान गति पकड़ रहा है वैसे-वैसे अधिक संख्या में छात्र एवं छात्रायें इस अभियान से जुड़ते जा रहे हैं। इस कार्यक्रम में सम्मिलित होने के बाद छात्राओं ने कहा कि इस कार्यक्रम ने उन्हें मासिक धर्म से संबन्धित मानसिक वर्जना के बारे में सोचने, चर्चा करने एवं उस पर उचित कदम उठाने के लिए प्रेरित एवं प्रषिक्षित किया गया।

​दोनों तहसीलों के विद्यालयों, क्रमश: राजकीय हाईस्कूल-मस्तीपुर, राजकीय हाईस्कूल-धुनवासण्ड, राजकीय हाईस्कूल-करोरा, राजकीय हाईस्कूल-उतरवा, अभिनव विद्यालय-करोरा, नव जीवन इण्टर कालेज, राज नारायण जायसवाल इण्टर कालेज, सत्य नारायण तिवारी, काशीश्वर इण्टर कालेज-महोनलालगंज, राजकीय हाईस्कूल-मातीयमऊ, राजकीय हाईस्कूल-सुरियामऊ, गोंसाईंगंज में लखनऊ विश्वविद्यालय की अधिष्ठाता छात्र कल्याण, प्रो0 पूनम टण्डन के द्वारा सैनेटरी वेंडिंग मशीन एवं इन्सीनरेटर्स वितरित किए गये।

​इसी क्रम में विषेषज्ञों द्वारा मशीन प्रदर्शन विधि से मशीन के प्रयोग के बारे में स्पष्ट एवं समूची जानकारी प्रदान की गई। कार्यक्रम में उपस्थित लगभग 300 छात्राओं ने कहा कि उन्होंने इस तरह की मशीन न पहले कभी देखी है और न ही उसके बारे में कभी पढ़ा है। इसके उपरान्त उन्होंने एक स्वर में कहा कि ‘‘जीवन कितना सरल और मुक्त है’’।

छात्राओं से बात करते हुए प्रो0 पूनम टण्डन ने कहा कि मासिक धर्म महिलाओं के स्वस्थ जीवन का एक अभिन्न अंग है और उन्हें मासिक धर्म को एक बोझ की तरह नहीं लेना चाहिए और न ही उसके कारण अपने जीवन में किसी तरह के मानसिक वर्जना एवं रूढ़ीवादिता को जगह देनी चाहिए।

​इसी क्रम में राष्ट्रीय स्वंय सेवा के समन्वयक प्रो0 रूपेश कुमार ने कहा कि यह मशीने छात्राओं के जीवन को आसान, सुरक्षित एवं विद्यालय प्रांगण को स्वच्छ रखने में सहायता करेंगी। उन्होंने छात्राओं से अनुरोध किया कि वह इस जागरूकता अभियान को आगे बढ़ायें। डॉ० अल्का मिश्रा एवं डॉ०ज्योत्सना सिंह ने भी छात्राओं से बात कर उन्हें इस सामाजिक, मानसिक वर्जना से बाहर निकलने में मदद की। लखनऊ विश्वविद्यालय के राष्ट्रीय स्वयं सेवा के छात्रों द्वारा शिक्षाप्रद नुक्कड़ नाटक का सफल मंचन कार्यक्रम में उपस्थित छात्र/ छात्राओं के समक्ष किया। इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम में अब तक लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 आलोक कुमार के नेतृत्व में लगभग 800 छात्राओं के साथ जुड़कर 22 ग्रामीण विद्यालयों में कार्यक्रम का सराहनीय एवं सफल आयोजन किया जा चुका है।

About reporter

Check Also

प्रदेश में 22 करोड़ से अधिक पौधों के साथ 150 हाईटेक नर्सरी की स्थापना की हो रही ज़ोरदार तैयारी 

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by- @MrAnshulGaurav Sunday, June 26, 2022 लखनऊ: उत्तर ...