गाजीपुर पुलिस के हत्थे चढ़े शातिर

लखनऊ। राजधानी की गाजीपुर पुलिस ने वाहन चेकिंग के दौरान कार से भाग रहे शातिरों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। पुलिस ने कार से 500 ग्राम चरस, 2 अदद पीली धातु, एक तमंचा 315 बोर व एक जिंदा कारतूस, 92 हजार 4 सौ रूपये भी बरामद किये हैं।

गाजीपुर पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर

एसपी ट्रांसगोमती हरेन्द्र कुमार ने बताया कि गाजीपुर पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर बंधा रोड पर एक कार को घेराबंदी कर उसमें बैठे लोगों को गिरफ्तार किया है। जिसके पास से पुलिस ने चोरी का माल और चरस भी बरामद किया है। एसपी ट्रांसगोमती ने बताया कि पकड़े गए आरोपी अय्याशी करने के लिए चोरी की घटनाओं को अंजाम देते थे।

इनके गैंग में एक सोनार को भी शामिल है जो चोरी का माल खरीदता था। वहीं पकड़े गए आरोपियों की पहचान आयुष प्रताप सिंह निवासी गोसाईगंज, शिवम गुप्ता उर्फ नाटू निवासी बहराइच, सलमान खान निवासी गाजीपुर और संतोष निवासी गोमतीनगर के रूप में हुई। उन्होंने बताया कि पकड़े गए आरोपियों से पुलिस ने पूर्व में घटित 11 अन्य घटनाओं का खुलासा भी किया गया है।

प्रेमिका की मां की हत्या

एसपी ट्रांसगोमती हरेन्द्र कुमार ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों ने शिवम गुप्ता अपनी प्रेमिका से शादी न होने पर प्रेमिका की मां की हत्या करने की फिराक में भी था जिसके लिए उसने 315 बोर का तमंचा भी खरीदा था, लेकिन पुलिस ने घटना को अंजाम देने से पहले ही उसे धर दबोचा। एसपी ट्रांसगोमती हरेन्द्र कुमार ने बताया कि गैंग को पकड़ने वाली टीम में शामिल पुलिस कर्मियों को सम्मानित भी किया जाएगा।

पुलिस टीम में रहे शामिल

इस गैंग को पकड़कर घटना का खुलासा करने वाली टीम में गाजीपुर थानाध्यक्ष सुजीत कुमार राय, उप० निरीक्षक विजय शंकर सिंह, उप० निरीक्षक लोकेश कुमार गौतम, हेड कांस्टेबल नागेन्द्र सिंह, कांस्टेबल अलोक पाण्डेय, कांस्टेबल अंकुर चौधरी, कांस्टेबल राधारामण शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *