Breaking News

यूपी में भीषण गर्मी में ट्रेन में सफर कर रहे 4 लोगों की मौत

देश के उत्तर और मध्य हिस्सों में भीषण गर्मी पड़ रही है और लोगों को फिलहाल ‘लू’ से राहत मिलती नजर नहीं आ रही है। गर्मी के प्रकोप से दिन पर दिन लोगों का जीना बेहाल हो गया है। भीषण गर्मी और चढ़ते पारे ने अब तक के सारे रेकॉर्ड तोड़ दिए हैं। खासकर ट्रेनों के स्लीपर कोचों में गर्मी से यात्रियों की हालत बेहद खराब होती जा रही है।

इस भीषण गर्मी से उत्तर प्रदेश के आगरा और झांसी के बीच केरल एक्सप्रेस के स्लीपर कोच में सफर कर रहे चार यात्रियों की जान ले ली। मृतकों के नाम तमिलनाडु के नीलगिरी निवासी 80 वर्षीय पाची अप्पा पलानी स्वामी, 69 वर्षीय बालाकृष्णन रामास्वामी, कोयम्बटूर के 71 वर्षीय चिन्नारे और उट्टी कन्नूर निवासी 87 वर्षीय सुबरय्या बताए जा रहे हैं।

बताया जा रहा है कि यह ट्रेन निजामुद्दीन से त्रिवेंद्रम जा रही थी। रिपोर्ट के मुताबिक, आगरा से निकलने के बाद ट्रेन को बीच-बीच में खड़ा कर दिया गया और तेज गर्मी से पांच यात्रियों की हालत बिगड़ गई, जिसमें से चार यात्रियों की मौत हो गई। ट्रेन में यात्रियों की मौत की सूचना पर हडक़ंप मच गया। शवों को झांसी रेलवे स्टेशन में उतार लिया गया और उनके परिजनों को सूचना दे दी गई। वहीं इस मामले में रेलवे प्रशासन इस बारे में कुछ भी कहने से बच रहा है। उत्तर-मध्य रेलवे के पीआरओ मनोज कुमार सिंह ने बताया कि ट्रेन कुछ तकनीकी कारणों से लेट हो जाती है लेकिन यात्रियों से तबीयत पहले से खराब थी। अभी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट नहीं आई है। इसके बाद ही पता चल पाएगा कि इन यात्रियों की मौत की असल वजह क्या थी।

बताया जा रहा है कि दस दिन पहले 68 यात्रियों का एक दल तमिलनाडु से वाराणसी और आगरा घूमने आया था। वाराणसी के बाद वे आगरा पहुंचे। यहां घूमने के बाद सोमवार की दोपहर लगभग ढाई बजे उनकी वापसी थी। सभी यात्री आगरा कैंट से केरल एक्सप्रेस (12626) में सवार हुए। वे स्लीपर कोच में सफर कर रहे थे। आरोप है कि आगरा से झांसी के बीच ट्रेन को कड़ी धूप में बीच रास्ते रोक दिया गया। इस दौरान कोच में सवार यात्री गर्मी से तड़प उठे। पांच यात्रियों की हालत काफी बिगडऩे लगी। ट्रेन बीच रास्ते में होने के चलते उन्हें इलाज भी नहीं मिल सका और चार यात्रियों ने दम तोड़ दिया।

अधिकारियों ने बताया कि सभी यात्रियों के शव केरल भेजे जा रहे हैं। पीआरओ मनोज कुमार सिंह ने बताया कि ट्रेन कुछ तकनीकि कारणों से लेट हो जाती है लेकिन यात्रियों से तबीयत पहले से खराब थी। अभी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट नहीं आई है।

वहीं उत्तरप्रदेश में हाल ही मे एक लडक़ी ट्रेन में सफर के दौरान दम घुटने से मौत हो गई। संपकं क्रांति एक्सप्रेस के जनरल कोच में एक युवती सीता (18) परिवार के साथ दिल्ली जा रही थी। ट्रेन में काफी भीड़ थी, जिस वहज से उसकी तबीयत खराब हुई और वह सांस नहीं ले पाई। झांसी रेलवे स्टेशन पर उतार कर उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

About Aditya Jaiswal

Check Also

RTI खुलासा : यूपी के सूचना आयुक्त हर्षवर्धन शाही पर सूचना अधिनियम की धारा-18 को व्यर्थ करार देने का आरोप; संसद-संविधान और कानून व्यवस्था से भी ख़ुद को माना ऊपर 

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by- @MrAnshulGaurav Thursday, July 07, 2022 लखनऊ। उत्तर ...