Breaking News

सीएम योगी की सुरक्षा व्यवस्था में होंगे यह बड़ा बदलाव, अब कार्यालय में लगेंगे इस प्रकार के शीशे

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ाया जाएगा. इसक लिए लोकभवन में मुख्यमंत्री कार्यालय को बुलेटप्रूफ स्तर का बनाने के आदेश जारी हुए हैं. अब वहां की खिड़कियों में बुलेटप्रूफ शीशे लगवाए जाएंगे. साथ सारे परिसर में सुरक्षा के बंदोवस्त भी  ज्यादा बेहतर बनाया जाएगा.

केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआइएसएफ) ने सीएम ऑफिस में बाहरी तरफ लगे शीशों को सुरक्षा के लिए खतरा बताया है. ऐसे में मुख्यमंत्री कार्यालय को बुलेटप्रूफ बनाया जाएगा. गृह विभाग के वरिष्ठ ऑफिसर ने बताया कि सीएम ऑफिस में सीसीटीवी कंट्रोल रूम बनाने  इससे सारे परिसर पर नजर रखने की व्यवस्था की जाएगी. वहीं लोकभवन में पब्लिक एड्रेस सिस्टम भी लगाए जाएंगे.

मुख्यमंत्री कार्यालय के शीशों को बुलेटप्रूफ बनाने के साथ लोकभवन के पांचवे तल पर एक एक्स-रे बैगेज स्कैनर भी लगाया जाएगा. कार्यालय की चहारदीवारी पर लेजर आधारित या इसी तरह का कोई अन्य इंट्रजन डिटेक्शन सिस्टम लगाया जाएगा.

Loading...

साथ ही परिसर के वॉच टावरों को भी 10 दिन में नेट से कवर करने के आदेश दिए गए हैं, ताकि कोई ग्रेनेड से नुकसान न पहुंचा सके. पार्किंग में एंटी सेबोटाज जाँच होगी. लोकभवन में तैनात सुरक्षाकर्मियों को एटीएस से प्रशिक्षण दिलाया जाएगा. विधान भवन, सचिवालय  लोकभवन की सुरक्षा के लिए सीआइएसएफ की रिपोर्ट पर अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी की अध्यक्षता में हुई मीटिंग में यह फैसला लिए गए.

सचिवालय के गेट नंबर सात से सीएम के प्रवेश और निकासी के सामने से कब्ज़ा हटाने के आदेश दिए गए हैं. मंत्री, विधायक और ऑफिसर विधान भवन में गेट नंबर आठ और नौ लोकभवन में गेट नंबर एक और तीन से आ सकेंगे.

आने वाले समय में विधान भवन परिसर में चौपहिया वाहन आरएफआइडी (रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन) टैग से  दोपहिया वाहन स्मार्ट कार्ड से इंट्री दी जाएग. पैदल आने वाले लोकभवन के गेट नंबर छह और छह-ए से अस्थायी फोटो आइडी कार्ड जारी कराके जाँच के बाद प्रवेश पा सकेंगे

Loading...

About News Room lko

Check Also

प्रवासियों की बस ट्रक से भिड़ी, दर्जनभर से अधिक घायल, दो गंभीर

सुलतानपुर। जिलाधिकारी सी. इन्दुमती ने अवगत कराया है कि मुम्बई से ट्रेन के माध्यम से ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *