केंद्रीय मंत्री Ananth Kumar का निधन, 3 दिन का राजकीय शोक

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री Ananth Kumar अनंत कुमार का लंबी बीमारी के बाद सोमवार की सुबह निधन हो गया। अनंत कुमार के निधन के बाद से पीएम नरेंद्र मोदी और पार्टी व विपक्ष के नेताओं ने उनके परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है। वरिष्ठ नेता के निधन पर तीन दिन का राजकीय शोक और एक दिन की छुट्टी की घोषणा कर दी गई है।

कैंसर से पीड़ित थे Ananth Kumar

अनंत कुमार कर्नाटक के बेंगलुरु साउथ से सांसद थे। वह केंद्र सरकार में संसदीय कार्यमंत्री थे। पिछले कुछ महीनों से बीमार चल रहे बीजेपी नेता अनंत कुमार कैंसर से पीड़ित थे। उन्होंने 59 साल की उम्र में बेंगलुरु में अंतिम सांस ली। राष्ट्रीय शोक के अलावा केंद्रीय गृह मंत्रालय ने पूरे देश में राष्ट्रध्वज आधा झुकाने का निर्देश दिया है।

बता दें कि अनंत कुमार के पार्थिव शरीर को सुबह 9 बजे के बाद बेंगलुरु के नेशनल कॉलेज ग्राउंड पर रखा जाएगा, जहां पर लोग उन्हें श्रद्धांजलि दे पाएंगे। बता दें कि अनंत कुमार पिछले कुछ दिनों से वेंटिलेटर पर थे। बेंगलुरु साउथ से लगातार 6 बार जीत हासिल करने वाले अनंत कुमार को फेफड़ों का कैंसर था।

पीएम मोदी और राष्‍ट्रपति ने जताया दुख

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अनंत कुमार के निधन पर गहरा दुख व्‍यक्‍त किया है। उन्‍होंने कहा, ”वह विलक्षण नेता थे, जो कि काफी कम उम्र में ही सार्वजनिक जीवन में आए और बहुत परिश्रम एवं करुणा के साथ लोगों की सेवा की। अच्‍छे कार्यों की वजह से उनको हमेशा याद किया जाएगा।”

पीएम मोदी ने यह भी कहा कि उन्‍होंने अनंत कुमार की पत्‍नी डॉ तेजस्विनी से बातचीत की है और शोक संतप्‍त परिवार को अपनी संवेदनाएं प्रकट की हैं। उन्‍होंने कहा, ”दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके पूरे परिवार, मित्रों और समर्थकों के साथ हैं। ओम शांति।”

About Samar Saleel

Check Also

अग्निपथ योजना के खिलाफ वकील एम एल शर्मा ने खटखटाया SC का दरवाज़ा, अगले हफ्ते होगी सुनवाई

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें सरकार ने पिछले महीने, ‘अग्निपथ’ योजना की घोषणा ...