Breaking News

कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते दिल्ली में अलर्ट घोषित, एक सप्ताह में 68 लोगों की गयी जान

देशभर में कोरोना के बढ़ते मामले टेंशन दे रहे हैं। पिछले सप्ताह की बात करें तो 7 महीने के बाद 36 हजार नए केस रिपोर्ट हुए। दिल्ली, केरल, महाराष्ट्र समेत कई राज्यों में कोरोना के मामलों में उछाल दर्ज की गई है।

संक्रमण अभी लगातार बढ़ ही रहा है। ऐसे में दिल्ली में अलर्ट घोषित कर दिया गया है। राहत की बात यह है कि मौतों का आंकड़ा ज्यादा नहीं बढ़ा है। एक सप्ताह में कोरोना की वजह से कुल 68 लोगों की जान गई। हालांकि एक सप्ताह पहल के मुकाबले यह संख्या ज्यादा है।

केरल में एक सप्ताह में सबसे ज्यादा केस रिपोर्ट हुए। यहां 11,296 लोग कोरोना की चपेट में आए जो कि एक सप्ताह पहले के आंकड़ों से ढाई गुना ज्यादा है। वहीं महाराष्ट्र दूसरे नंबर पर रहा. यहां 4,587 नए केस रिपोर्ट हुए। दिल्ली में 94 फीसदी उछाल देखा गया और 3,896 पॉजिटिव केस मिले। गुजरात में भी 15 फीसदी का उछाल दर्ज किया गया।

कोरोना के टीके और बूस्टर डोज के लिए अब मांग भी तेज हो गई है। बताया जा रहा है कि सरकारी टीकाकरण केंद्रों पर वैक्सीन की कमी ही गई है इसलिए तेजी से टीकाकरण नहीं हो रहा है। बहुत सारे लोग कोरोना वैक्सीन का बूस्टर डोज लगवाना चाहते हैं। बड़ी संख्या में स्वास्थ्यकर्मी भी अभी बूस्टर डोज नहीं ले पाए है। जानकारों का कहना है कि इस बार का स्ट्रेन ज्यादा खतरनाक नहीं है। लोग मामूली तौर पर बीमार पड़ते हैं। वहीं इसके लिए टीके की भी जरूरत नहीं है।

राजस्थान और छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों में अभी कोरोना में ज्यादा उछाल नहीं देखा गया है। मौतों की बात करें तो बीते सप्ताह महाराष्ट्र में 15, दिल्ली में 10, हिमाचल प्रदेश में 8 और गुजरात में 6, कर्नाटक में 5 लोगों की जान कोरोना की वजह से गई। बता दें कि आईएमए ने भी कहा है कि इस बार बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सावधानी की जरूरत है लेकिन डरने की जरूरत नहीं है। कोरोना का नया वेरिएंट उतना ताकतवर नहीं है इसलिए अस्पतालों में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या भी कम है।

About News Room lko

Check Also

टीएमसी की रैली में CM ममता बोलीं- महिलाओं को आरक्षण न दे सकी BJP, अखिलेश ने कहा- जल्द गिर जाएगी NDA सरकार

कोलकाता: प. बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की शहीद दिवस पर चल रही रैली में ...