Breaking News

रूस के खिलाफ अमेरिका-जर्मनी ने किया ऐसा, शक्तिशाली हथियारों के साथ…

यूक्रेन-रूस युद्ध के बीच अमेरिका और जर्मनी अब यह घोषणा करने के लिए तैयार हैं कि मॉस्को से मुकाबला करने के लिए वे कीव को अपने मुख्य युद्धक टैंक प्रदान करेंगे।

शक्तिशाली हथियारों को देने पर अब दोनों देशों के बीच सहमति बन गई है। संभावना है कि बुधवार को ही दोनों देश लेपर्ड-2 टैंक और एम 1 अब्राम्स टैंक यूक्रेन भेजने का ऐलान कर सकते हैं।

अमेरिका और रूस के इस कदम से यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की की सेना पहले से और ताकतवर हो सकेगी और उसे हमला करने में नई क्षमता देगी क्योंकि यूक्रेन में अब लड़ाई शहरी केंद्रों से पूर्व की ओर स्थानांतरित हो गई है जहां 24 फरवरी को रूसी आक्रमण के बाद से ही रूसी सेना जमी हुई है।

उम्मीद यह है कि इन टैंकों के जरिए अब यूक्रेन रूसी सेना पर दूर तक हमले कर सकेगा और रूस के आक्रमण को कुंद कर सकेगा। यूक्रेन के सैन्य अधिकारियों को इस बात का डर है कि रूस ठंड के बाद यूक्रेन पर हमले की नई योजना बना रहा है। उन्हें इस बात की भी उम्मीद है कि इन टैंकों के मिल जाने से वह रूसी मंसूबों को नाकाम कर सकते हैं।

इस मामले से परिचित दो लोगों ने कहा कि बाइडेन प्रशासन द्वारा बुधवार को ही घोषणा करने की उम्मीद है कि वह यूक्रेन को एम 1 अब्राम्स टैंक की पेशकश करेगा, इस तर्क को छोड़ते हुए कि यह वाहन बहुत अधिक गैस छोड़ता है और इसे संचालित करना मुश्किल है। जर्मनी, जिसने जोर देकर कहा था कि वह इस तरह के टैंकों की पेशकश करने वाला अकेला देश नहीं होना चाहता, भी यूक्रेन को लेपर्ड-2 सीरीज का 14 A6 टैंक भेजेगा। जर्मनी के इस फैसले से परिचित एक व्यक्ति ने नाम न छापने की शर्त पर ब्लूमबर्ग को बताया है।

About News Room lko

Check Also

ऑकलैंड में भारी बारिश के बाद बाढ़ वायरल तस्वीरें भयावह हालातों को कर रही बयां

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें न्यूज़ीलैंड के सबसे बड़े शहर ऑकलैंड में भारी ...