Breaking News

सेना के अफसरों को अब सीएसडी से नहीं मिलेंगी मनपसंद ब्रांड की शराब, निर्यात पर लगी रोक

कैंटीन स्टोर्स डिपार्टमेंट (सीएसडी) ने शराब के दो बेहद चर्चित ब्रांड के आयात पर रोक लगा दी है. सीएसडी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील के बाद यह कदम उठाया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सेना के अधिकारियों को अब अपने दो पसंदीदा ब्रांड के बिना ही रहना पड़ेगा. प्राप्त जानकारी के अनुसार, पेरनॉड रिकार्ड और डियाजियो के आयात पर रोक लगा दी गई है.

हालांकि, सीएसडी ने अभी तक इस पर कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है. एक अधिकारी ने कहा कि यह मामला सिर्फ आयातित शराब का नहीं है. विभाग द्वारा कोरोना संक्रमण के दौरान लगे लॉकडाउन में सिर्फ जरूरी सामान की खरीद का ही आदेश जारी किया गया था.

Loading...

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, आयातित शराब पर प्रतिबंध से व्यापार पर कुछ खास फर्क नहीं पड़ेगा, क्योंकि उसका शेयर बहुत कम है. फ्रेंच कंपनी पेरनॉड रिकार्ड और ब्रिटेन की कंपनी डियाजियो दोनों को मिलाकर लगभग 50 फीसदी आयातित शराब आर्मी कैंटीन को सप्लाई किया जाता है.

सीएसडी पूरे भारत में लगभग 5,000 स्टोर चलाती है, जो हर साल शराब के एक करोड़ 10 लाख केस बेचती है. इसमें से लगभग आधी रम होती है, जबकि 1 से 1.2 लाख केस करीब इंपोर्टेंड शराब के होते हैं. बता दें कि एक केस में नौ लीटर शराब या 750 एमएल की 12 बोतल होती हैं. कैंटीन में शराब डिस्काउंट में बेची जाती है. साथ ही नॉर्मल दुकानों के मुकाबले इनका रजिस्ट्रेशन अलग से होता है. एक अधिकारी ने बताया कि इस शराब को भारत में कहीं और नहीं बेचा जा सकता.

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

कार्ड में छपवाया Google Pay और Phone Pe का क्यूआर कोड, दुल्हन की मां का शगुन लेने के लिए अनोखा तरीका

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें कोरोना वायरस ने लोगो का जीवन पूरी तरह ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *