Breaking News

BJP समाज में घोल रही है नफरत

लखन­ऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि BJP भाजपा पिछड़ों, दलितों, अल्पसंख्यकों को कुछ नहीं समझती है। वह समाज में नफरत घोलती है। भाजपा की प्रतिबद्धता कहीं और है। भाजपा का संविधान में विश्वास नहीं है। भाजपा के लोग घिसी पिटी बातें करते है, वे बदलाव नहीं ला सकते हैं। सन् 2014 में जिसे सत्ता सौंपी थी वह चैकीदार ईमानदार नहीं निकला इसलिए सन् 2019 में या प्रधानमंत्री चाहिए।

भाजपा लोकतंत्र को मार्केटिंग, ब्रांडिंग से प्रभावित कर रही है। किन्तु जनता अब भाजपा के बहकावे, भुलावे में नहीं आनेवाली है। सन् 2019 के चुनावों में भाजपा का सूपड़ा साफ हो जाएगा। श्री यादव आज यहां मीडिया से वार्ता में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी-बहुजन समाज पार्टी का गठबंधन बहुत मजबूत है। यह गठबंधन समाज और देश में परिवर्तन लाएगा। यह विचारों का गठबंधन है। इस गठबंधन को जनता चाहती है। इसके लिए मैं कोई भी त्याग कर सकता हॅू।

BJP के साथ तो 30 दल

हमारा तो दो-तीन दलों का गठबंधन है जबकि BJP भाजपा के साथ तो 30 दल हैं। समाजवादी पार्टी-बहुजन समाज पार्टी-राष्ट्रीय लोक दल गठबंधन गरीबों, किसानों, नौजवानों के जीवन में बदलाव लाएगा। आज देश जिन राजनीतिक स्थितियों से गुजर रहा है उसमें समाजवादी पार्टी-बहुजन समाज पार्टी गठबंधन ही सबसे अच्छा विकल्प है। समाजवादी पार्टी के साथ बहुजन समाज पार्टी के आने से भाजपा का जल्दी चला जाना निश्चित है।

Loading...

श्री अखिलेश ने कहा कि भाजपा सत्ता के लिए कोई भी झूठ बोल सकती है। ढाई लोगों ने देश को बर्बाद कर दिया है। प्रधानमंत्री जी ने नोटबंदी, गंगा की सफाई, स्मार्टसिटी, जीएसटी समेत तमाम मुद्दों पर झूठ बोला है। जीएसटी से छोटे उद्योगधंधे चैपट हो गए है। बेरोजगारी रूकने का नाम नहीं ले रही है। नोटबंदी के फायदे भाजपा क्यों नहीं बताती? नोटबंदी में कई गरीब लोग बैंक की लाइन में लगे हुए मर गए। एक महिला को लाइन में लगे प्रसव हो गया। उसकी भाजपा ने कोई फिक्र नहीं की।

 

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

योगी सरकार ने पुलिसकर्मियों को लेकर जारी किया एक नया फरमान, अब हर कर्मचारी को अपनी संपत्ति….

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने अब प्रदेश के पुलिसकर्मियों को लेकर एक नया फरमान ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *