CJI रंजन गोगोई ने की सिफारिश- देश के अगले प्रधान न्यायाधीश बने जस्टिस बोबडे

सुप्रीम कोर्ट के मुख्‍य न्‍यायाधीश रंजन गोगोई ने न्‍यायालय में दूसरे वरिष्ठतम जज जस्टिस शरद अरविंद बोबड़े को अगला CJI बनाने की सिफारिश कानून मंत्रालय को भेजी है। CJI की नियुक्ति का आधिकारिक आदेश राष्ट्रपति भवन से होता है। दरअसल, जस्टिस गोगोई 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं। जस्टिस बोबड़े 18 नवंबर को CJI बनेंगे। उनका कार्यकाल 23 अप्रैल 2021 तक होगा। बताया जाता है कि जस्टिस बोबडे 23 अप्रैल 2021 तक मुख्य न्यायाधीश रहेंगे।

24 अप्रैल, 1956 को नागपुर में जन्मे बोबडे सुप्रीम कोर्ट के जज हैं और साथ ही वो महाराष्ट्र नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी, मुंबई और महाराष्ट्र नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी, नागपुर के चांसलर भी हैं। उनके पिता का नाम अरविंद श्रीनिवास बोबडे है। शरद अरविंद ने नागपुर विश्वविद्यालय से बीए और एलएलबी डिग्री ली है। शरद अरविंद बोबडे अपर न्यायाधीश के रूप में 29 मार्च 2000 को बॉम्बे हाई कोर्ट की खंडपीठ का हिस्सा बने।

Loading...

16 अक्टूबर 2012 को मध्य प्रदेश हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली। 12 अप्रैल 2013 को भारत के सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत किया गया। जस्टिस बोबडे का कार्यकाल 23 अप्रैल, 2021 में खत्म होने जा रहा है। बोबड़े का सुप्रीम कोर्ट में आठ साल का कार्यकाल है।

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

दिल्‍ली हिंसा में अब तक 15 FIR दर्ज, पंजाब के गैंगस्‍टर लक्खा का आया नाम

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें दिल्‍ली की सड़कों पर 26 जनवरी को गणतंत्र ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *