Breaking News

CMS का आमिश 2,68,000 अमेरिकी डालर की स्कॉलरशिप के साथ आइवी लीग यूनिवर्सिटी में चयनित

आइवी कालेज में स्कॉलरशिप के साथ चयनित होना मेरे लिए अविश्वसनीय, संतुष्टिदायक एवं गर्व से परिपूर्ण है। यह सफलता सी.एम.एस. के हमारे शिक्षकों व सभी परिवारीजनों के सहयोग की बदौलत ही संभव हो सकी है।- आमिश अहमद बेग़, छात्र, सिटी मोन्टेसरी स्कूल

लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) के छात्र आमिश अहमद बेग ने अमेरिका के अत्यन्त प्रतिष्ठित डार्टमाउथ कालेज, जिसे आइवी लीग यूनिवर्सिटी का दर्जा प्राप्त है, से उच्चशिक्षा हेतु 2,68,000 अमेरिकी डालर की स्कॉलरशिप अर्जित कर लखनऊ का नाम अन्तर्राष्ट्रीय पटल पर गौरवान्वित किया है।

CMS का छात्र आमिश अहमद बेग

इस अभूतपूर्व उपलब्धि पर अपनी प्रसन्नता जाहिर करते हुए आमिश ने कहा कि आइवी कालेज में स्कॉलरशिप के साथ चयनित होना मेरे लिए अविश्वसनीय, संतुष्टिदायक एवं गर्व से परिपूर्ण है। यह सफलता सी.एम.एस. के हमारे शिक्षकों व सभी परिवारीजनों के सहयोग की बदौलत ही संभव हो सकी है। आमिश इसी माह से शुरू होने जा रही आई.एस.सी. (12वीं) की बोर्ड परीक्षा में सम्मिलित हो रहा है।

इस अवसर पर अपनी प्रसन्नता व्यक्त करते हुए सी.एम.एस. गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) की प्रधानाचार्या आभा अनन्त ने कहा कि आमिश हमारे विद्यालय का अत्यन्त ही मेधावी छात्र है और उसने समय-समय पर अपने ज्ञान व विलक्षण बुद्धिमत्ता से सी.एम.एस. का नाम रोशन किया है। अभी कुछ वर्ष पहले आमिश ने आई.आई.टी. गुवाहाटी में आयोजित इण्टरनेशनल टेक फेस्ट में विश्व के कई देशों के छात्रों के बीच अपने मेधात्व का परचम लहराया था।

आमिश के पिताजी स्वयं भी शिक्षा क्षेत्र से जुड़े हैं और आई.आई.टी.-जे.ई.ई. में प्रवेश के इच्छुक छात्रों के लिए कोचिंग संस्थान चलाते हैं। एक अनौपचारिक वार्ता में आमिश के पिताजी ने कहा कि शुरू में हम भी यही चाहते थे कि आमिश देश के किसी आई.आई.टी. संस्थान में दाखिला ले, लेकिन, उसका रूझान विश्व की किसी टॉप यनिवर्सिटी से कम्प्यूटर इंजीनियरिंग की डिग्री लेने का था। मुझे खुशी है कि अब वह अपना सपना साकार कर सकेगा।

उन्होंने बताया कि डार्टमाउथ कालेज के अलावा अमेरिका की एरिजोना स्टेट यूनिवर्सिटी समेत विश्व के 6 विश्वविद्यालयों में दाखिले हेतु आमिश को आमन्त्रण प्राप्त हुआ है। यह पूछने पर कि देश के बजाय विदेश के विश्वविद्यालय को उच्चशिक्षा हेतु क्यों चुना, आमिश ने कहा कि आई.आई.टी. से संस्थानों में चुने जाने वाले छात्र ज्ञान व बुद्धिमत्ता की दृष्टि से सर्वश्रेष्ठ होते हैं, अंतर सिर्फ इतना है कि विदेशी विश्वविद्यालयों से ग्लोबल एक्सपोजर काफी अधिक मिलता है।

सी.एम.एस. संस्थापक डा. जगदीश गाँधी ने सी.एम.एस. के इस मेधावी छात्र को अभूतपूर्व उपलब्धि पर हार्दिक बधाई देते हुए विद्यालय की प्रधानाचार्या व शिक्षकों का आभार व्यक्त किया जिनके कठिन परिश्रम व लगन की बदौलत सी.एम.एस. छात्र शैक्षिक क्षेत्र में नये-नये कीर्तिमान स्थापित कर रहे हैं।

सी.एम.एस. प्रदेश में एकमात्र एस.ए.टी. (सैट) एवं एडवान्स प्लेसमेन्ट (ए.पी.) टेस्ट सेन्टर है जो उत्तर प्रदेश एवं आसपास के अन्य राज्यों के छात्रों को विश्व के सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालयों में स्कॉलरशिप के साथ उच्च शिक्षा प्राप्त करने में मदद कर रहा है।

प्रतिवर्ष भारी संख्या में सी.एम.एस. छात्र विश्व के सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालयों में उच्चशिक्षा कई लिए चयनित होते हैं। इस वर्ष अभी तक सी.एम.एस. के 80 से अधिक छात्रों ने अमेरिका, इंग्लैण्ड, कैनडा, आस्ट्रेलिया, जापान, सिंगापुर, जर्मनी आदि विभिन्न देशों के ख्यातिप्राप्त विश्वविद्यालयों जैसे कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी, कैलीफोर्निया इन्स्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (कैलटेक), मैसाचुसेट्स इन्स्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एम.आई.टी.), स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी, कार्नेल यूनिवर्सिटी, मेलबर्न यूनिवर्सिटी एवं नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सिंगापुर आदि में स्कॉलरशिप के साथ चयनित होकर लखनऊ का नाम रोशन किया है।

 

About reporter

Check Also

चिंता का सबब बनता गिरता हुआ रुपया

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा दरों में 50 आधार ...