Breaking News

42 साल पहले हुयी 10 दलितों की हत्या के मामले में एक आरोपी को कोर्ट ने सुनाई उम्र कैद की सजा

फिरोजाबाद जनपद की जिला अदालत ने गांव साढूपुर में 42 साल पहले हुए 10 दलितों के सामूहिक हत्याकांड के मामले में एक मात्र बचे 90 साल के एक बुजुर्ग को उम्र कैद की सजा सुनाई है. अदालत ने उन पर 55 हजार का अर्थदंड भी लगाया है. अर्थदंड न देने पर आरोपी को 13 महीने का अतिरिक्त कारावास भुगतना पड़ेगा. यह मामला मक्खनपुर थाना क्षेत्र के गांव साढूपुर का है।

हत्या के मामले में कोर्ट ने सुनाई उम्र कैद की सजा

साल 1981 में यहां पर 10 दलितों की हत्या कर दी गई थी. तब यह गांव शिकोहाबाद थाना क्षेत्र के अंतर्गत आता था और मैनपुरी जनपद लगता था. यह मामला काफी सुर्खियों में रहा था. हत्याकांड के बाद कई बड़े नेता भी यहां आए।

👉लोक माता अहिल्याबाई होल्कर की 298वीं जयंती मनायी गयी

इस मामले में 10 लोगों के खिलाफ मुकदमा लिखा गया था और पुलिस ने उनके खिलाफ अदालत में चार्जशीट भी दाखिल की थी. 10 आरोपियों में से 9 आरोपियों की मौत हो चुकी है. गंगा सहाय नामक एकमात्र आरोपी जीवित बचे थे, जिन्हें कोर्ट ने बुधवार को उम्र कैद की सजा सुनाई है।

रिपोर्ट-मयंक शर्मा

About Samar Saleel

Check Also

भारत से कुवैत पहुंचते ही मौत की आग में समाए लोकनंदम; केरल के राज्यपाल बोले- हादसा शब्दों से परे

कुवैत के मंगफ इलाके में एक छह मंजिला इमारत में भीषण आग लगने से 49 ...