Breaking News

क्रिकेट के अंदाज में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने किया ये काम ,

रकार कैसे काम करती है, इस चीज को भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर ने शुक्रवार को बेहद रोचक अंदाज में बताया। जयशंकर ने क्रिकेट का उदाहरण देते हुए बताया कि कप्तान मोदी के नेतृत्व में हम सुबह छह बजे से नेट प्रैक्टिस शुरू कर देते हैं।

भारतीय विदेश मंत्री ने यह बातें रायसीन डायलॉग में बोलते हुए कहीं। सिर्फ क्रिकेट ही नहीं, इस दौरान एस जयशंकर ने फिल्मी उदाहरण भी दिए। उन्होंने भारत और इंग्लैंड के रिश्ते को फिल्म आरआरआर का रेफरेंस देते हुए परिभाषित किया।

विदेश मंत्री ने आगे कहा कि सरकार चलाते हुए कई बार कड़े फैसले भी लेने होते हैं। उन्होंने लॉकडाउन को एक ऐसा ही कड़ा फैसला बताया। जयशंकर ने आगे कहा कि आज पीछे मुड़कर देखें तो समझ आता है कि अगर हमने वह फैसला न लिया होता तो क्या होता? इसके बाद विदेश मंत्री ने भारत की विदेश नीति में बढ़ती रुचि की बात की।

उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि दुनिया अब बहुत कठिन जगह हो गई है। बहुत से लोग दुनिया में रुचि ले रहे हैं। दूसरी वजह, भारत का बढ़ता वैश्वीकरण है। इसके बाद उन्होंने फिर से क्रिकेट का उदाहरण दिया और कहा कि हम क्रिकेट टीम की तरह केवल घरेलू मैदानों पर ही नहीं, बल्कि दुनिया भर के अलग-अलग मैदानों पर जीत हासिल करना चाहते हैं।

जयशंकर ने कहा कि हमारे कप्तान प्रधानमंत्री मोदी हैं। उनके नेतृत्व में हम सुबह 6 बजे से नेट प्रैक्टिस शुरू कर देते हैं, जो देर रात तक चलती रही है। उन्होंने आगे कहा कि जब टीम का कप्तान गेंदबाज हो तो उसे पता होता है कि बॉलिंग किससे करानी चाहिए। इस हिसाब से कैप्टन मोदी ने अपने गेंदबाजों को अच्छी छूट दे रखी है। उन्होंने आगे कहा कि पीएम चाहते हैं कि बतौर गेंदबाज जब भी आपके पास मौका हो, आप विकेट जरूर लें। रायसीना डायलॉग का आयोजन ऑर्ब्जवर रिसर्च फाउंडेशन भारतीय विदेश मंत्रालय के साथ मिलकर कर रही है। इस आयोजन में ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री टोनी ब्लेयर और इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर केविन पीटरसन भी मंच पर मौजूद थे।

 

About News Room lko

Check Also

टीचर्स ओलम्पियाड में CMS शिक्षका ने इण्टरनेशनल प्रथम रैंक अर्जित कर बढ़ाया लखनऊ का मान

लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल (CMS) गोमती नगर द्वितीय कैम्पस के कैम्ब्रिज इण्टरनेशनल की शिक्षिका शिल्पी ...