Breaking News

पाकिस्तान टीम के इस फैसले से इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन नाखुश, कही ये बात

रविवार 13 नवंबर को टी20 वर्ल्ड कप 2022 का रोमांचक फाइनल मैच पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच मेलबर्न में खेला गया। इस खिताबी मैच को इंग्लैंड की टीम ने जीता, लेकिन पाकिस्तान की टीम ने कम स्कोर बनाने के बावजूद आखिर तक हार नहीं मानी।

अगर शाहीन शाह अफरीदी चोटिल नहीं होते तो शायद मैच में और भी रोमांच देखने को मिलता। यहां तक कि शाहीन अगला ओवर फेंकने आए, लेकिन एक गेंद फेंकने के बाद पवेलियन लौट गए। पाकिस्तान टीम के इस फैसले से इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन नाखुश हैं।

शाहीन अफरीदी का खुद का फैसला इस मैच में आगे गेंदबाजी करने था या फिर टीम मैनेजमेंट ने उनको ऐसा करने के लिए बोला था, ये अभी स्पष्ट नहीं है, लेकिन कप्तान बाबर आजम और टीम मैनेजमेंट को एक बार के लिए ये सोचा था कि वे अपने सबसे अच्छे गेंदबाज के करियर को रिस्क पर डाल रहे हैं, क्योंकि चोट के साथ खेलना किसी भी खिलाड़ी के लिए आसान नहीं होता, खासकर एक तेज गेंदबाज के लिए। यहां तक कि वे फील्ड पर भी दिखे, क्योंकि वे गेंदबाजी करना चाहते थे। इससे नासिर हुसैन नाखुश हैं।

मैच के बाद उन्होंने कहा है कि भले ही ये विश्व कप फाइनल था, लेकिन आप किसी के करियर को रिस्क पर नहीं डाल सकते। #नासिर हुसैन ने कहा, “समझ लो विश्व कप फाइनल है, लेकिन किसी युवा के करियर को जोखिम में नहीं डाल सकते, तेज गेंदबाज खरे सोने की तरह होते हैं।” शाहीन के तीसरे ओवर को इफ्तिखार अहमद ने पूरा किया, जो मैच का टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ, क्योंकि उन्होंने पहली 3 गेंदों पर 3 रन दिए थे और अगली दो गेंदों पर एक चौका और एक छक्का खाया था।

दरअसल, टी20 वर्ल्ड कप 2022 के फाइनल में दो अच्छे ओवर करने के बाद शाहीन अफरीदी के ओवरों को कप्तान बाबर आजम ने आखिर के लिए रोक रखा था, लेकिन 13वें ओवर की तीसरी गेंद पर शाहीन ने हैरी ब्रूक का कैच पकड़ा था।

इसी दौरान वे चोटिल हो गए, क्योंकि उनका घुटना मुड़ गया। इसी चोट के चलते वे एशिया कप 2022 से बाहर हो गए थे, लेकिन टी20 वर्ल्ड कप में उन्होंने वापसी की थी। खिताबी मैच में 16वां ओवर शाहीन फेंकने आए, लेकिन एक गेंद फेंकने के बाद वे फिर से मुंह लटकाकर लौट गए।

About News Room lko

Check Also

अंतिम पड़ाव पर विजय हजारे ट्रॉफी खतरनाक फॉर्म में गायकवाड़

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें भारतीय डोमेस्टिक क्रिकेट के सबसे बड़े टूर्नामेंट में ...