Breaking News

रूरूगंज में शारदीय नवमी पर हवन पूजन व कन्या भोज के साथ विशाल भंडारे की हुई शुरुआत

बिधूना। नवरात्रि में अष्टमी और नवमी के दिन कन्या पूजन किया जाता है। इस दिन छोटी-छोटी कन्याओं को घर, मंदिर या देवी पंडालों में बुलाकर उनकी पूजा की जाती है और उन्हें पकवान खिलाए जाते हैं और भोजन के पश्चात इन कन्याओं से आशीर्वाद लेकर इन्हें उपहार या दक्षिणा दी जाती है। सबका मानना है कि ऐसा करने से माँ भगवती प्रसन्न होती हैं और भक्तों की मनोकामनाएं पूरी करती हैं।

नवरात्रि के इस पावन अवसर पर आज नवमी के दिन बिधूना क्षेत्र के कस्बा रुरुगंज में माता शेरावाली की पूजा आराधना बड़ी धूमधाम से की गयी।श्री नाव दुर्गा पूजा महोत्सव समिति के तत्वाधान में हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी माता शेरावाली की मूर्ति स्थापना की गई थी। जिससे पूरे कस्बा नवरात्रि में भक्तिमय रहा।

माता के दरबार मे मुख्य पुजारी श्याम बिहारी दुबे व परीक्षित सुरेंद्र गुप्ता रहे, जो कि नवरात्रि में नव दिन का उपवास कर माता की भक्ति करते हुए माता की सेवा करते रहे।आज नवरात्रि के समापन एवं नवमी के पावन अवसर पर माता के पंडाल में हवन पूजन किया गया साथ ही कन्या पूजन किया गया तथा कन्याओं को भोजन कराकर विशाल भंडारे का शुरुआत की गई।

बता दें कि समस्त कस्बे के लोगों ने समूचे परिवार जनों के साथ माता के दरवार में हवन, कन्या पूजन, कन्या भोज व कन्याओं को दान दक्षिणा देकर आशीर्वाद लिया तथा भंडारे की शुरुआत की। इस दौरान श्री नव दुर्ग पूजा महोत्सव के अध्यक्ष डॉ सुनील राजपूत, गौरव गुप्ता, सोनू राजपूत, प्रदीप अग्निहोत्री, श्याम बाबू दीक्षित, चुनमुन ठाकुर, आशीष कुमार, रवि राजपूत के साथ युवा कमेटी रुरुगंज के अजय सेंगर, हिमांशु, निक्की, शिवम, गणेश, सत्यम, अर्पित, आयुष, सुमित, चंदन, शिवम राठौर आदि लोग मौजूद रहे।

रिपोर्ट – संदीप राठौर चुनमुन

About Samar Saleel

Check Also

पत्नी और प्रेमी द्वारा रची घातक साजिश का शिकार हुआ व्यक्ति, प्राकृतिक लग रही मौत

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें मुंबई में एक महिला को अपने पति के ...