Breaking News

भारत ने दानिश की मौत का मामला यूएन में उठाया

नई दिल्ली। विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने कहा है कि भारत, अफगानिस्तान में पुलित्जर पुरस्कार विजेता भारतीय फोटो जर्नलिस्ट दानिश सिद्दीकी की हत्या की कड़ी निंदा करता है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के एक कार्यक्रम में बोलते हुए श्रृंगला ने सशस्त्र संघर्ष के दौरान नागरिकों के खिलाफ हिंसा के बारे में चिंता जताई।

रॉयटर्स समाचार एजेंसी के लिए काम करने वाले दानिश सिद्दीकी शुक्रवार को अफगान सुरक्षा बलों और तालिबान के बीच झड़प को कवर करते हुए मारे गए थे। एक अफगान कमांडर ने रॉयटर्स को बताया कि 38 वर्षीय दानिश अफगान सुरक्षा बलों के साथ सीमावर्ती शहर स्पिन बोल्डक में था, जब उन्हें तालिबान की गोली लगी।

श्रृंगला ने संयुक्त राष्ट्र में कहा “प्राचीन भारत में सशस्त्र संघर्ष के लिए धर्म आधारित मानदंड मानवता और मानवीय मानदंडों के सिद्धांत पर स्थापित किए गए थे और संघर्ष के दौरान नागरिकों की रक्षा करने वाले कई नियम थे। इससे पहले शुक्रवार को विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने संवाददाताओं से कहा कि काबुल में भारत के राजदूत इस मामले में अफगान अधिकारियों के संपर्क में हैं। उन्होंने कहा “हम उनके परिवार को घटनाक्रम से अवगत करा रहे हैं।”

दानिश सिद्दीकी के पिता मोहम्मद अख्तर सिद्दीकी ने कहा कि उन्हें उनके बेटे की मौत की सूचना रॉयटर्स ने दी थी। विदेश मंत्रालय ने उन्हें सूचित किया है कि वे पत्रकार के बॉडी को ट्रेस करने की कोशिश कर रहे है। मोहम्मद अख्तर सिद्दीकी ने कहा उन्होंने अधिकारियों से इस प्रक्रिया में तेजी लाने की मांग की है। मोहम्मद अख्तर सिद्दीकी ने कहा “आखिरी बार जब मैंने उनसे एक दिन पहले बात की थी।वह असुरक्षित नहीं लग रहा था और वह अपने काम के बारे में बहुत आश्वस्त लग रहा था। “अमेरिका में जो बाइडेन प्रशासन ने फोटो जर्नलिस्ट की मृत्यु पर शोक व्यक्त किया है।

अमेरिकी विदेश विभाग की प्रमुख उप प्रवक्ता जलिना पोर्टर ने कहा “हमें यह सुनकर गहरा दुख हुआ है कि रॉयटर्स के फोटो जर्नलिस्ट दानिश सिद्दीकी अफगानिस्तान में लड़ाई को कवर करते हुए मारे गए। अफगान पत्रकार सुरक्षा समिति ने भी हत्या की निंदा की और देश की सरकार से घटना की जांच करने का आह्वान किया है।अफगानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र सहायता मिशन ने भी जांच की मांग की और कहा कि सिद्दीकी की मौत देश में मीडिया के सामने बढ़ते खतरों की दर्दनाक घटना है।

About Samar Saleel

Check Also

पेंटागन: मेट्रो बस प्लेटफॉर्म पर अंधाधुंध फायरिंग से मची लोगों में दहशत, एक अधिकारी की चाकू मारकर हत्या

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें अमेरिका के सुरक्षा हेडक्वार्टर कहे जाने वाले पेंटागन ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *