Breaking News

पश्चिम बंगाल में 20 हजार करोड़ का निवेश करेगी रिलायंस: मुकेश अंबानी

• जियो ट्रू 5जी नेटवर्क बंगाल के अधिकांश हिस्सों में पहुंचा
• 200 नए स्टोर खोलेगी रिलायंस रिटेल
• रिलायंस फाउंडेश कर रहा है प्रसिद्ध कालीघाट मंदिर का पुनर्उद्धार
• प. बंगाल में अब तक 45 हजार करोड़ का निवेश कर चुकी है रिलायंस

कोलकाता। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने पश्चिम बंगाल में 20 हजार करोड़ के निवेश की घोषणा की है। यह निवेश अगले तीन सालों में किया जाएगा। कोलकाता में चल रहे 7वें बंगाल ग्लोबल बिजनेस समिट में मुकेश अंबानी ने कहा, रिलायंस बंगाल के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ेगा। रिलायंस ने अब तक बंगाल में करीब 45,000 करोड़ रुपये का निवेश किया है। अगले तीन वर्षों में हम 20 हजार करोड़ का अतिरिक्त निवेश करेंगे।

👉लखनऊ में अग्निवीर भर्ती रैली का आखरी दिन

‘मैत्री’ फेलोशिप शुरू, भारतीय छात्रों को ऑस्ट्रेलिया में शोध का मिलेगा अवसर

20 हजार करोड़ का यह निवेश टेलीकॉम, रिटेल और बायो एनर्जी सेक्टर में किया जाएगा। अंबानी ने बताया कि हम 5जी को राज्य के हर कोने तक ले जा रहे हैं, खासकर ग्रामीण बंगाल को जोड़ा जा रहा है।

बंगाल के अधिकांश हिस्सों को हमने कवर कर लिया है। जियो का नेटवर्क राज्य में 98.8% और कोलकाता टेलीकॉम सर्कल में 100% जनसंख्या को कवर करता है। जियो का मजबूत नेटवर्क पश्चिमी बंगाल में रोजगार के साथ बड़े पैमाने पर शिक्षा, स्वास्थ्य सेवा और कृषि को बढ़ावा देगा।

👉राम नगरी की पंच कोसी परिक्रमा आज, शुभ मुहूर्त 22 नवम्बर बुधवार रात्रि 9 बजकर 25 मिनट से 23 नवम्बर सायं 7 बजकर 21 मिनट तक

रिलायंस रिटेल अगले दो वर्षों में पश्चिमी बंगाल में करीब 200 नए स्टोर खोलने की योजना बना रहा है। अभी रिलायंस के करीब 1000 स्टोर्स बंगाल में काम कर रहे हैं जो बढ़कर 1200 हो जाएंगे। मुकेश अंबानी ने कहा कि हमारे रिटेल बिजनेस से बंगाल के सैकड़ों छोटे व मझौले व्यवसायी व करीब 5.5 लाख किराना दुकानदार जुड़े हैं।

नए स्टोर्स खुलने से उनको फायदा होगा। प्रभुजी, मुखरोचक, सिटी गोल्ड, बिस्क फार्म जैसे बंगाल के कई क्षेत्रीय ब्रांड्स का जिक्र करते हुए उन्होंने बताया कि रिलायंस रिटेल के जरिए हम इन ब्रांड्स को पूरे देश में ले जा रहे हैं।

‘मैत्री’ फेलोशिप शुरू, भारतीय छात्रों को ऑस्ट्रेलिया में शोध का मिलेगा अवसर

भारत की सबसे बड़ी बायो एनर्जी उत्पादक, रिलायंस‘मैत्री’ फेलोशिप शुरू भारतीय छात्रों को ऑस्ट्रेलिया में शोध का मिलेगा अवसर अगले तीन वर्षों में 100 कंप्रेस्ड बायोगैस प्लांट लगाएगी। इन प्लांट्स में 5.5 मिलियन टन कृषि अवशेष और जैविक कचरे की खपत होगी।

जिससे करीब 2 मिलियन टन कार्बन उत्सर्जन को कम करने में मदद मिलेगी और सालाना 2.5 मिलियन टन जैविक खाद का उत्पादन होगा। मुकेश अंबानी ने कहा कि हम किसानों को बड़े स्तर पर एनर्जी बागान लगाने में मदद करेंगे। जिससे वे अन्नदाता के साथ ऊर्जादाता भी बन सकेंगे और उनकी आय भी बढ़ेगी।

‘मैत्री’ फेलोशिप शुरू, भारतीय छात्रों को ऑस्ट्रेलिया में शोध का मिलेगा अवसर

मुकेश अंबानी ने अपने भाषण में रिलायंस फाउंडेशन द्वारा प. बंगाल में किए जा रहे कामों का भी जिक्र किया। इनमें सबसे महत्वपूर्ण हैं कोलकाता के प्रसिद्ध कालीघाट मंदिर का नवीनीकरण और पुनर्उद्धार। सदियों पुराने इस मंदिर की मरम्मत और सौंदर्यीकरण का काम रिलायंस फाउंडेशन कर रहा है।

फाउंडेशन की ‘स्वदेश’ पहल के तहत भारत की समृद्ध और विविध पारंपरिक कला और शिल्प को भारत और विश्व स्तर पर बढ़ावा दिया जा रहा है। बंगाल में शिल्पकारों की युवा पीढ़ी के लिए रिलायंस फाउंडेशन राज्य सरकार के सहयोग से प्रशिक्षण संस्थान बनाएगी। साथ ही बुनकरों, कारीगरों और हस्तशिल्पियों के उत्पाद को फाउंडेशन, रिलायंस के रिटेल चैनलों पर बेचेगा इसके लिए ‘बिस्वा बांग्ला कॉर्पोरेशन’ के साथ एक समझौता किया गया है।

रिपोर्ट-शाश्वत तिवारी

About Samar Saleel

Check Also

90 वर्षीय अर्थशास्त्री बोले- नोबेल के बिना जिंदगी बर्बाद नहीं होती; बची उम्र पढ़कर गुजार दूंगा

कोलकाता। मुझे नहीं लगता कि नोबेल नहीं मिला होता तो मेरी जिंदगी बर्बाद होती। जिंदगी ...