प्रबन्धन में सहायक प्लांट व प्रतिज्ञा


उत्तर प्रदेश में विगत साढ़े तीन वर्षों में निवेश का अनुकूल माहौल कायम हुआ है। इन्वेस्टर्स समिट व इसमें प्राप्त निवेश प्रस्ताव अभूतपूर्व थे। इसके सकारात्मक परिणाम भी मिलने लगे है। मोदी नगर का ऑक्सीजन प्लांट इसी का प्रमाण है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसका वर्चुअल शुभारम्भ किया। उन्होंने इसे कोरोना संक्रमण बचाव से जोड़ते हुए प्रदेश में अभियान को भी आगे बढ़ाया। कहा कि जब तक कोरोना की कोई वैक्सीन या उपचार नहीं आ जाता,तब तक इसके संक्रमण से बचाव ही एक मात्र उपाय है। मोदी नगर में नवस्थापित यह ऑक्सीजन प्लाण्ट वर्तमान में कोविड-19 संक्रमण के विरुद्ध संघर्ष में सहायक होगा। करीब दो वर्ष पहले हुई इन्वेस्टर्स समिट के दौरान मोदी नगर, गाजियाबाद में इस प्लांट का प्रस्ताव आया था। प्रदेश में काफी निवेशक आ रहे हैं। ईज ऑफ डूईंग बिजनेस में उत्तर प्रदेश दूसरे स्थान पर है।

निवेश संभावनाओं की दृष्टि से उत्तर प्रदेश देश में एक महत्वपूर्ण केन्द्र बन गया है। निवेश उत्तर प्रदेश के विकास व युवाओं के लिए एक माध्यम बना है। दुनिया के सामने प्रदेश की एक बेहतर छवि सामने आयी है। निवेशको की संतुष्टि ही वर्तमान सरकार की पूंजी है। आयनाॅक्स ग्रुप आने वाले दिनों में मध्यांचल में भी ऑक्सीजन का एक प्लाण्ट लगाएगी। इस पर अमल हुआ। इस प्लाण्ट की कुल क्षमता डेढ़ सौ टन प्रति दिन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन उत्पादित करने की है। यह प्रदेश का सबसे बड़ा ऑक्सीजन प्लाण्ट है। प्लाण्ट में एक हजार मीट्रिक टन लिक्विड ऑक्सीजन भण्डारण करने की भी क्षमता है। प्लाण्ट द्वारा प्रदेश के करीब दो सौ सरकारी व निजी क्षेत्र के अस्पतालों को ऑक्सीजन सप्लाई की जाएगी। चिकित्सा क्षेत्र के अतिरिक्त इसका प्रयोग अन्य उद्योगों जैसे फार्मा एवं केमिकल, इलेक्ट्राॅनिक मैनुफैक्चरिंग आदि में भी किया जाएगा। यह सांयोग है कि आज ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई के लिए एक जन आन्दोलन अभियान की शुरुआत की है। जिसके तहत कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण के लिए जनभागीदारी द्वारा व्यवहार परिवर्तन तथा हैण्ड वाॅश,सोशल डिस्टेसिंग,मास्क के उपयोग के सम्बन्ध में जागरुकता बढ़ाने का कार्य सुनिश्चित होगा। इससे लोगों को कोविड के दृष्टिगत प्रोटोकाॅल को अपने जीवन का हिस्सा बनाने में मदद मिलेगी।

Loading...

नरेन्द्र मोदी जी द्वारा आरम्भ किए गए जन आन्दोलन अभियान के तहत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज अपने सरकारी आवास पर कोविड के बारे में सतर्कता और संक्रमण को रोकने सम्बन्धी सभी आवश्यक सावधानियां बरतने का संकल्प लिया। उन्होंने यह संकल्प प्रदेश के मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों को भी दिलाया। कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कोविड के सम्बन्ध में जन आन्दोलन अभियान आज से आरम्भ किया जा रहा है। इस जन आन्दोलन अभियान के तहत जन भागीदारी के साथ कोरोना के खिलाफ लड़ाई को मजबूती मिलेगी। उत्तर प्रदेश सरकार और प्रदेश की जनता भी इस अभियान का एक सशक्त हिस्सा बन रही है। इसके दृष्टिगत कोविड सम्बन्धी संकल्प अभियान भी चलाया जा रहा है।

इसके तहत कोविड के दृष्टिगत व्यवहार परिवर्तन के अलावा हैण्ड वाॅश, सोशल डिस्टेंसिंग,मास्क के उपयोग आदि के सम्बन्ध में जागरूकता बढ़ाए जाने का कार्य सुनिश्चित होगा। प्रतिज्ञा पत्र के अनुसार यह संकल्प लिया गया कि ‘मैं संकल्प लेता/लेती हूं कि मैं कोविड-19 के बारे में सतर्क रहूंगा/रहूंगी और मुझे व मेरे साथियों को इससे जुड़े खतरे को हमेशा ध्यान में रखूंगा/रखूंगी। मैं इस घातक विषाणु के प्रसार को रोकने सम्बन्धी सभी आवश्यक सावधानियां बरतने का वचन देता/देती हूं। मैं कोविड-19 से जुड़े आचार-व्यवहार का अनुसरण करने और दूसरों को भी इसके लिए प्रोत्साहित करने का भी वचन देता/देती हूं। मैं सदैव मास्क/फेस कवर पहनूंगा/पहनूंगी, विशेषकर सार्वजनिक स्थलों पर। मैं दूसरों से कम से कम 2 गज की दूरी बनाकर रखूंगा/रखूंगी। मैं अपने हाथ को नियमित रूप से और अच्छी तरह साबुन और पानी से धोऊंगा/धोऊंगी। हम एक साथ मिलकर कोविड-19 के खिलाफ इस लड़ाई को जीतेंगे।

रिपोर्ट-डॉ. दिलीप अग्निहोत्री
डॉ. दिलीप अग्निहोत्री
Loading...

About Samar Saleel

Check Also

पहले फेज की वोटिंग के बाद तेजस्वी यादव ने किया क्लीन स्वीप का दावा

बिहार में पहले चरण के चुनाव के बाद सभी दलों द्वारा जीत के दावे लगातार ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *