Breaking News

रेलवे अफसर के सरकारी मकान में चोरी, युवती पर हुए हमले को लेकर लोग भयभीत

यूपी में अपराधों के कम होने के लगातार दावों के बीच राजधानी लखनऊ में कई ऐसी घटनाएं हो रही हैं जिनसे कानून व्यवस्था पर सवाल उठ रहे हैं। पीजीआई इलाके में दुष्कर्म के विरोध में एक युवती पर कातिलाना हमला हुआ है जिसे लेकर स्थानीय लोग भयभीत हैं। आरोपियों को अब तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। वहीं, शहर में रेलवे अधिकारी के सरकारी आवास में चोरी हो गई। यहां पढ़ें, शहर में अपराध की खबरें:

रेलवे अधिकारी के सरकारी मकान में चोरी
मानकनगर की आरडीएसओ कॉलोनी में रेलवे अधिकारी त्रियंबक तिवारी के मकान का ताला तोड़कर चोर जेवरात और नकदी उठा ले गए। घटना के वक्त पीड़ित प्रयागराज गए थे। पड़ोसी की सूचना पर घर लौटे और शनिवार को एफआईआर दर्ज कराई। त्रियंबक तिवारी रेलवे के सिग्नल एवं दूरसंचार निदेशालय में तैनात संयुक्त निदेशक पद पर तैनात हैं। उनकी पत्नी सांत्वना पेंशन निदेशालय में उप निदेशक हैं।

पुलिस चौकी बनाने की मांग, दो आरोपी फरार
पीजीआई इलाके में दुष्कर्म के विरोध पर युवती पर बुधवार को हुए कातिलाना हमले के बाद स्थानीय लोग अपनी सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं। कॉलोनी के रहने वाले एनएस धामी, प्रकाश बिष्ट और जेबी भट्ट ने गांव में पुलिस चौकी बनाने और खुलेआम शराब पीने वालों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग पुलिस से की है। युवती पर हुए हमले के मामले में फरार मुख्य आरोपी पंकज रावत के दो साथियों पूरन व ललित को अब तक पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकी है।

जन्मदिन से पहले बीए की छात्रा ने लगा ली फांसी
लखनऊ के आशियाना इलाके में रहने वाली बीए की छात्रा 17 वर्षीय गुनगुन उर्फ आर्या ने शनिवार रात फांसी लगा ली। परिजनों ने पुलिस को सिर्फ डिप्रेशन की बात बताई है। छात्रा का 12 सितंबर को जन्मदिन था। इंस्पेक्टर एके पांडे के मुताबिक, सेक्टर-एच इलाके में प्राइवेट कंपनीकर्मी संजय अग्निहोत्री परिवार संग रहते हैं। उनकी बेटी गुनगुन केकेसी कॉलेज में बीए प्रथम वर्ष की छात्रा थी। शनिवार रात करीब दस बजे पहली मंजिल पर बने टिनशेड में पढ़ाई करने की बात कहकर चली गई। संजय के अनुसार, थोड़ी देर के बाद भतीजे का फोन आया और उसने गुनगुन से बात करने की इच्छा जताई। छोटा भाई अक्षत बहन को बुलाने ऊपर पहुंचा तो देखा कि गुनगुन का शव फंदे से लटक रहा था। इंस्पेक्टर का कहना है कि छात्रा ने आत्महत्या क्यों की, इसकी जांच की जा रही है। परिजनों ने सिर्फ छात्रा के डिप्रेशन में होने की बात बताई है।

जाली दस्तावेज पर रजिस्ट्री करने वाला गिरफ्तार
चिनहट पुलिस ने जाली दस्तावेज पर रजिस्ट्री करने वाले जालसाज मोहित तिवारी को रविवार को कमता इलाके से गिरफ्तार कर लिया। मुकदमें से अपना नाम निकलवाने के लिए आरोपी ने पीड़िता को कई बार धमकी दी थी। पीड़िता ने एक महीने पहले इसकी शिकायत एडीसीपी पूर्वी अली अब्बास से की थी। इंस्पेक्टर आलोक राव के मुताबिक, आरोपी मोहित के खिलाफ दो मई को पिंकी कश्यप ने जालसाजी, जाली दस्तावेज तैयार करने व रुपये हड़पने का केस दर्ज कराया था। पुलिस ने कुछ दिन बाद तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। पिंकी के मुताबिक, गिरफ्त से बाहर चल रहे मोहित, उसके पिता पप्पू तिवारी व मुन्ना उस पर मुकदमें में नाम हटवाने के लिए दबाव बना रहे थे। अभी इस गिरोह के मास्टरमाइंड पप्पू तिवारी व मुन्ना गिरफ्त से बाहर हैं।

About News Desk (P)

Check Also

एक फैसले से सोने की तस्करी का कोढ़ होगा खत्म, यूपी में सात गुना बढ़ गई थी तस्करी

लखनऊ:  दस साल से सोने में आयात शुल्क घटाने की मांग कर रहे सराफा बाजार ...