Breaking News

खाध सुरक्षा और औषधि प्रशासन की कार्यवाही, 20 कुंतल पनीर नष्ट कराया

फिरोजाबाद। जिले में खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग की टीम ने जनपद में खराब गुणवत्ता की पनीर की आपूर्ति करने वाले अर्तराज्यीय नेटवर्क का खुलासा किया। अभिहित अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि सूचना मिली थी कि जनपद से लगने वाली सीमाओं वाले जिलों से खराब गुणवत्ता का पनीर एवं दूध की आपूर्ति हो रही है। जो फिरोजाबाद के हाइवे पर स्थित ढाबों पर डीलर के माध्यम से भिजवाया जाता है। उक्त सूचना पर विभाग ने सघन कार्यवाही करते हुए गायों से पनीर के सैम्पल लिये थे, जिनमें कई नमूने जाँच में असुरक्षित (मानव स्वास्थ्य हेतु हानिकारक) भी पाये गये थे।

उक्त आधार पर विभाग ने जांच करते हुए इस नेटवर्क को खोजा तथा तडके सुबह 03 बजे ही रास्तों पर टीमें तैनात कर दी। टीम ने मुस्तैदी से कार्य करते हुए वाहन संख्या आर0जे0 11 जी0वी0 5210 को रोका। वाहन के ऊपर सब्जियों के खाली कैरट लगे थे ऊपर की कैरिटें हटाने के बाद थर्माकोल के बॉक्स में बडी मात्रा में पनीर भण्डारित मिला। पनीर की गुणवत्ता प्रथम दृष्टया सही नहीं पायी गई तथा पनीर से खराब गंध भी आ रही थी। जांच के बाद पता चला कि उक्त पनीर राजस्थान के श्याम बाबा डेयरी धौलपुर से लाया गया था। जिसके मालिक दिनेश कुमार सिंघल हैं तथा यह पहले कृष्णा मिल्क डेयरी, शिकोहाबाद को भेजा जा रहा था।

Loading...

टीम ने पनीर के दो नमूने जॉँच हेतु संग्रहित किये तथा पनीर में बदबू आने के कारण आपूर्तिकर्ता के सहमति से पनीर को जेसीबी मशीन से गढ्ढा खुदवाकर नष्ट करा दिया। पनीर की मात्रा लगभग 20 कुन्टल थी जिसकी कीमत 03 लाख 40 हजार बताई गयी। आपूर्ति फर्म कृष्णा मिल्क डेयरी को भी नोटिस दी गई तथा एक नमूना घी का संग्रहित किया गया। अभिहित अधिकारी ने बताया कि राजस्थान घौलपुर जनपद के अभिहित अधिकारी को भी सूचना भिजवायी जा रही है। जिससे निर्माण यूनिट पर कार्यवाही हो सके। टीम में खाद्य सुरक्षा अधिकारी रविभान सिंह, ओमप्रकाश सिंह, अरुण कुमार मिश्रा एवं खाद्य सहायक राजकुमार शामिल रहे। अभिहित अधिकारी ने टीम में कार्य कर रहे अधिकारियों की उक्त कार्यवाही हेतु सराहना भी की।

रिपोर्ट-मयंक शर्मा

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

दस वर्ष पूर्व मर चुकी महिला पर शांतिभंग की कार्रवाई, जांच के आदेश

औरैया। जनपद के एरवाकटरा में जमीनी विवाद के एक मामले में पुलिस द्वारा दस वर्ष ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *