Breaking News

ऋषि का सद्साहित्य मानव जीवन का आधार है : उमानंद शर्मा

• गायत्री ज्ञान मंदिर का ज्ञान यज्ञ अभियान के तहत माँ भगवती कालेज ऑफ नर्सिंग चिनहट में किया गया 389वाँ युगऋषि ऋषि वाङ्मय की स्थापना

लखनऊ। गायत्री ज्ञान मंदिर इंदिरा नगर, लखनऊ के विचार क्रान्ति ज्ञान यज्ञ अभियान के अन्तर्गत “माँ भगवती कालेज ऑफ नर्सिंग, चिनहट सतरिख रोड, लखनऊ” के केन्द्रीय पुस्तकालय में गायत्री परिवार के संस्थापक युगऋषि पं श्रीराम शर्मा आचार्य द्वारा रचित सम्पूर्ण 79 खण्डों का 389वाँ ऋषि वांड़मय की स्थापना कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। उपरोक्त साहित्य गायत्री परिवार रचनात्मक ट्रस्ट की सक्रिय कार्यकर्ती श्रीमती मुन्नी सिंह ने स्व. आदेश कुमार सिंह जी की स्मृति में तथा छात्र-छात्राओं एवं संकाय सदस्यों को अखण्ड ज्योति पत्रिका भेंट की।

👉मिशन 2024: अपने सिंबल पर चुनाव लड़ेगी बीजेपी सहयोगी निषाद पार्टी, इस वजह से लिया फैसला

इस अवसर पर वाङ्मय स्थापना अभियान के मुख्य संयोजक उमानंद शर्मा ने कहा कि ‘‘ऋषि का सद्साहित्य मानव जीवन का आधार है’’। इस अवसर पर संस्थान के चेयरमैन राजेश यादव ने कहा माँ भगवती ग्रुप ऑफ इन्स्टीटूशन में 7 संस्थान कार्यरत है जिनमें 1250 छात्र-छात्रायें, शिक्षारत हैं। सभी छात्र-छात्राओं को ऋषि सद्साहित्य का लाभ मिलेगा, प्रबन्ध निदेशक, आशुतोष यादव ने अपने विचार रखे।

👉मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बिगड़ी तबीयत , लखनऊ के अपोलो अस्पताल के आईसीयू में भर्ती

प्रधानाचार्या अपर्णा श्रीवास्तव ने धन्यवाद ज्ञापन किया। इस अवसर पर उमानंद शर्मा (Umanand Sharma), मुन्नी सिंह, शिवम, संस्थान के चेयरमैन राजेश यादव, प्रबन्ध निदेशक आशुतोष यादव, प्रधानाचार्या अपर्णा श्रीवास्तव, सहित छात्र-छात्रायें, शिक्षक-शिक्षिकायें मौजूद थे।

रिपोर्ट-दया शंकर चौधरी

About Samar Saleel

Check Also

अवध विश्वविद्यालय: स्नातक व परास्नातक सम सेमेस्टर के परीक्षा फार्म भरने की तिथि बढ़ी

• छात्र-छात्राओं को अंतिम अवसर देते हुए अविवि ने परीक्षा फार्म भरने की तिथि बढ़ाई ...