Breaking News

आध्यात्मिक शिक्षा से बच्चों में बुद्धिमत्ता और ज्ञान का विकास होता है – डा. जगदीश गाँधी

अपने संबोधन में डा. गाँधी ने कहा कि यदि हम बालक को प्रारम्भ से ही आध्यात्मिक ज्ञान देंगे तो स्वतः ही उसमें वे मानवीय गुण उत्पन्न होंगे जिससे उसकी बुद्धिमत्ता व ज्ञान में वृद्धि होगी।

लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, अलीगंज (द्वितीय कैम्पस) में ‘डिवाइन एजुकेशन कान्फ्रेन्स’ का भव्य आयोजन किया गया। यह आयोजन, सी.एम.एस. कानपुर रोड ऑडिटोरियम में उल्लास और उमंग से सराबोर वातावरण में सम्पन्न हुआ। सी.एम.एस. संस्थापक डा. जगदीश गाँधी ने ज्ञान का दीप प्रज्वलित कर समारोह का विधिवत शुभारम्भ किया।

आध्यात्मिक शिक्षा से बच्चों में बुद्धिमत्ता और ज्ञान का विकास होता है – डा. जगदीश गाँधी

इस अवसर पर, अपने संबोधन में डा. गाँधी ने कहा कि यदि हम बालक को प्रारम्भ से ही आध्यात्मिक ज्ञान देंगे तो स्वतः ही उसमें वे मानवीय गुण उत्पन्न होंगे जिससे उसकी बुद्धिमत्ता व ज्ञान में वृद्धि होगी। वह सही और गलत में भेदभाव कर सकेगा और अपने जीवन में सही निर्णय ले सकेगा। उन्होंने कहा कि बालक में सद्विचार के बीज बोने के उपरान्त उन्हें प्रेम व स्नेह से सींचकर अपने विचारों को अभिव्यक्त करना भी सिखाना चाहिए।

इस अवसर पर विद्यालय के छात्रों ने ईश्वरीय एकता व आध्यात्मिक चेतना का आलोक बिखेरते रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक प्रस्तुतियों से दर्शकों के रूप में उपस्थित अभिभावकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। इस भव्य समारोह में वार्षिक परीक्षा में टॉप करने वाले, राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगी परीक्षाओं में विद्यालय का गौरव बढ़ाने वाले एवं साँस्कृतिक कार्यक्रमों व खेलकूद में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले प्रतिभाशाली छात्रों को सम्मानित किया गया।

सी.एम.एस. अलीगंज (द्वितीय कैम्पस) की प्रधानाचार्या सुश्री संविदा अधिकारी ने अभिभावकों को धन्यवाद देते हुए कहा कि अभिभावकों का अपार सहयोग हमें मिलता है, इसी कारण हम बच्चों को सफलता की बुलन्दी पर पहुँचाने में सफल हुए हैं।

 

About reporter

Check Also

पारदर्शी व्यवस्था का व्यापक लाभ

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by- @MrAnshulGaurav Thursday, May 19, 2022 नियुक्तियों में ...