हथियारों की तस्करी की फिराक में थे आतंकी, सेना ने फ्लॉप कर दिया प्लान

 उत्तरी कश्मीर में शनिवार को भारतीय सेना ने राज्य पुलिस के साथ मिलकर पाकिस्तानी सेना द्वारा समर्थित आतंकवादियों के बड़े मंसूबे को नाकामयाब कर दिया है. आतंकवादी किशनगंगा नदी के रास्ते पीओके से हथियारों की तस्करी का प्रयास कर रहे थे. जानकारी मिलते ही सेना ने जम्मू-कश्मीर पुलिस के साथ मिलकर संयुक्त ऑपरेशन चलाया और आतंकवादियों के हथियार बरामद कर जब्त कर लिया.

जीओसी चिनार कॉर्प्स के लेफ्टिनेंट जनरल बीएस राजू ने खबर की पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि सर्विलांस डिवाइसेस का इस्तेमाल करते हुए हमारे मुस्तैद जवानों ने पाकिस्तान द्वारा तस्करी किए जा रहे हथियारों का जखीरा पकड़ने में कामयाबी हासिल की है. उन्होंने कहा कि यह घटना दर्शाती है कि पाकिस्तान के इरादे अब भी वही हैं. हम आने वाले दिनों में भी पाकिस्तान के ऐसे ही बुरे इरादों से जूझते रहेंगे.

लेफ्टिनेंट जनरल ने बताया कि हमारी खुफिया एजेंसी की जानकारियों के मुताबिक, पाकिस्तान की ओर तकरीबन 250-300 आतंकी लॉन्च पैड हैं. आतंकवादियों के नियमित घुसपैठ की कोशिशों के बावजूद हम उन्हें अपने रेगुलर कोशिशों से दूर रखने में सक्षम हैं.

Loading...

बता दें कि शनिवार को जम्मू-कश्मीर के केरन सेक्टर में भारतीय सेना के जवानों ने पाकिस्तानी सेना द्वारा समर्थित आतंकवादियों के मंसूबे विफल कर दिए. आतंकी सीमा पार से हथियारों की तस्करी की कोशिश कर रहे थे. सर्विलांस संसाधनों का इस्तेमाल करते हुए भारतीय सेना के जवानों ने पाकिस्तानी आतंकवादियों को ऐसी नापाक कोशिश करते पकड़ लिया. सेना ने किशन-गंगा नदी के किनारे आतंकी गतिविधियों का पता लगाया था.

इसके तुरंत बाद जम्मू-कश्मीर पुलिस के साथ संयुक्त ऑपरेशन लॉन्च किया गया. बताया गया कि दो-तीन आतंकवादी नदी के दूर किनारे से रस्सी से बंधे ट्यूब में कुछ सामान ट्रांसपोर्ट करने की कोशिश कर रहे थे. इसी दौरान सेना के जवान वहां पहुंचे और हथियारों को जब्त कर लिया. आतंकवादियों के पास से 4 एके-74 राइफल, 8 मैगजीन और 230 एके राइफल बरामद किए हैं.

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

झारखंड में उपचुनाव ड्यूटी के लिये जा रहा सीआरपीएफ का वाहन पलटा, 10 जवान हुये घायल

झारखंड में गिरिडीह जिले के मधुबन थाना क्षेत्र के चैनपुर के पास आज एक सड़क ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *