Breaking News

ऐरवाकटरा में 126वां रामलीला महोत्सव हुआ शुरू, 14 दिन तक भगवान राम की लीलाओं का प्रदर्शन, पहले दिन निकाली गयी शिव बारात

बिधूना। तहसील क्षेत्र में कस्बा ऐरवाकटरा में शुक्रवार को 126वां रामलीला महोत्सव शुरू हो गया है। पहले दिन शाम 5 बजे से कस्बा में भगवान शिव की बरात निकाली गयी। इस दौरान बारात में भारत मां व कई देवी देवताओं के साथ भगवान शिव के गणों की इलेक्ट्रोनिक लाइटों से सजे रथों पर आर्कषक झांकियां देखने को मिलीं। कस्बावासियों ने जगह-जगह पर शिव बरात को रोककर भगवान शंकर की आरती की।

रामलीला समिति द्वारा शाम 5 बजे से कस्बा में शिव बारात निकाली गयी। बारात में भगवान शिव घोड़े पर सवार होकर निकले। जबकि गणेश जी, भारत माता, राम सीता, राधा कृष्ण, शिव पार्वती के अलावा शंकर के गणों की झांकियां इलेक्ट्रॉनिक लाइटों से सजे रथों पर सवार होकर निकाली गयीं। शंकर बारात ऐरवा टीकुर स्थित रामलीला मैदान से शुरू होकर कस्बा के विभिन्न मार्गों मुख्य बाजार, बिधूना रोड़, छिबरामऊ रोड़, किशनी रोड़ से होती हुई पुनः रामलीला मैदान में आकर समाप्त हुई। इस दौरान कस्बा वासियों ने बारात पर जगह-जगह पुष्प वर्षा की एवं बारात को रोककर भगवान शिव की आरती की।

शिव बारात में रामलीला कमेटी के अध्यक्ष सरमन सिंह, प्रबंधक इन्द्र प्रकाश तिवारी के अलावा गौरव गुप्ता, बीनू सक्सेना, अरूण कुशवाह, विजय कुमार, मंटू तिवारी, सचिन गुप्ता, रतन पोरवाल, मोहित कुशवाह, महेन्द्र राठौर, रानू पालीवाल, सिंटू बाथम, प्रिंस गुप्ता, मोनू जादौन, राजीव सक्सेना आदि कमेटी के पदाधिकारी व सदस्य लोग शामिल रहे।

इस मौके पर श्री रामलीला समिति ऐरवाकटरा अध्यक्ष सरमन सिंह व प्रबंधक इन्द्र प्रकाश तिवारी ने बताया कि श्री रामलीला महोत्सव आज शुक्रवार 23 सितंबर से शुरू होकर दिनांक 06 अक्टूबर दिन गुरुवार तक 14 दिन तक चलेगा। इस दौरान 25 सितंबर को गणेश पूजन, नारद मोह एवं रावण दिग्विजय, 26 सितंबर को श्रीराम जन्म, मुनि याचना, 27 सितंबर को ताड़का वध, श्रीगंगा लीला व नगर दर्शन की लीला होगी।

इसके अलावा 28 सितंबर को विशाल धनुष यज्ञ, रावण वाणासुर संवाद, जनक विलाप, लक्ष्मण परशुराम संवाद, 29 सितंबर को राम कलेवा, वन‌ गमन, 30 सितंबर को राम केवट संवाद, सीता हरण, 01 अक्टूबर को सबरी मिलन, सुग्रीव मित्रता, 02 अक्टूबर को सीता खोज, बालि वध, 03 अक्टूबर को लंका दहन व अंगद रावण संवाद, 04 अक्टूबर को लक्ष्मण शक्ति एवं मेघनाद वध, 05 अक्टूबर को कुम्भकर्ण, रावण वध एवं 06 अक्टूबर को भरत मिलाप एवं श्रीराम का राज्याभिषेक आदि की लीलाओं का मंचन होगा।

रिपोर्ट- राहुल तिवारी/संजीव शर्मा

About Samar Saleel

Check Also

हैदराबाद-गोरखपुर साप्ताहिक विशेष गाड़ी के संचलन अवधि में एक फेरे के लिये किया गया विस्तार

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ। रेल प्रशासन द्वारा यात्रियों की सुविधा को ...