Breaking News

कमिश्नर ने देखा शहर का हाल,डेयरी संचालकों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश

फ़िरोज़ाबाद। शहर में डेंगू, मलेरिया वायरल बुखार की रोकथाम व प्रभावी नियंत्रण हेतु जिला प्रशासन द्वारा निरंतर किए जा रहे प्रयासों व चलाए जा रहे जन जागरूकता अभियान के क्रम में मंगलवार को मण्डलायुक्त आगरा मण्डल आगरा अमित गुप्ता ने जिलाधिकारी चंद्रविजय सिंह, मुख्य विकास अधिकारी चर्चित गौड़ व नगर आयुक्त प्रेरणा शर्मा के साथ संयुक्त चिकित्सालय शिकोहाबाद, सौ शैय्या हॉस्पीटल, नगर निगम, कौशल्या नगर, एलान नगर, झलकारी नगर आदि प्रभावित क्षेत्रों में साफ-सफाई एवं चिकित्सा व्यवस्था का आकस्मिक निरीक्षण किया।

मण्डलायुक्त ने सौ शैय्या व डेेलीगेशन आइसोलेशन वार्ड में आक्स्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मण्डलायुक्त ने सौ शैय्या अस्पताल में चल रहे दवा वितरण व मेडिकल रिपोर्ट काउण्टर पर पहुंचकर वहां मरीजों की मेडिकल रिपोटर्स व उसकी समस्त दवाओं के बारें में परिजनों से व उसका इलाज कर रहे बाल रोग विशेषज्ञ डा0 एल के गुप्ता से हाल जाना और निर्देशित किया कि किसी भी मरीज को उपचार सम्बन्धित कठिनाई का सामना न करना पडेे़। मण्डलायुक्त ने सौ शैय्या हॉस्पीटल के सेण्ट्रल लेबोरेट्री का भी निरीक्षण किया।

इसके उपरांत मण्डलायुक्त ने बच्चों के सभी वार्ड में पहुंचकर वहां भर्ती बच्चों से उनके हाल जाने एवं उनसे बात कर उनसे पूछा कि यहां आपको कोई परेशानी तो नही हैै। उन्होने दिए जा रहे खाने की गुणवत्ता को जांचने के लिए मरीज शौर्य की चाची निवासी हिमाऊपुर से खाने की थाली को खुलवाकर एक-एक खाने की चीजों को देखा और उनसे खाने के बारे में पूंछा। मण्डलायुक्त ने प्रिंसिपल मेडिकल कॉलेज डा0 संगीता अनेजा को निर्देशित किया कि खाने की गुणवत्ता को बेहतर किया जा सकता है। इसी प्रकार से उन्होने मरीज कृष्णा की मां शकुन्ता देवी से पूछा कि इलाज से आप संतुष्ट है कि नही, खाना-पीना व दवाऐं सब समय से मिल रही हैं या नही, इस पर शकुन्ता देवी ने संतुष्टि व्यक्त करते हुए कहा कि मैं पूरी तरह से संतुष्ट हूं। उन्होने वार्ड मे कमजोर बच्चों के लिए डाइटिशियन नियुक्त करने और स्पेशल डायट देने के लिए मेडिकल कॉलेज प्राचार्या को निर्देशित किया।

निरीक्षण के दौरान मण्डलायुक्त ने नगर निगम का निरीक्षण किया, मण्डलायुक्त ने नगर आयुक्त को निर्देशित किया कि नगर में और ज्यादा कार्य कर रही टीमों को सक्रिय किया जाए, बारिश के मौके पर नगर मे पम्पसेट की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए, जहां-जहां पानी भरा हुआ है उसमें एण्टीलार्वा का छिड़काव, फॉगिग, कैरोसीन का छिडकाव अवश्य किया जाए, वहीं जिलाधिकारी ने जीएम जलकल से पूछा कि झलकारी नगर का पानी खत्म हुआ कि नही तो इस पर बताया कि सक्शन मशीन द्वारा पानी की निकासी कर दी गयी है।

मण्डलायुक्त ने नगर आयुक्त, जीएम जलकल व जेडएसओ से पूछा कि शहर में कितने पम्पसेट व मशीनें बढ़ाई गई है और कहां-कहां चल रही है इस पर बताया गया कि 30 डीजल पम्प, 8 मूम्वमेंट पम्प और 3 सक्शन मशीन के अतिरिक्त ट्रैक्टर पम्प के द्वारा जल निकासी की जा रही है। उन्होने नगर निगम के अधिकारियों को स्पष्ट निर्देशित किया कि बारिश होने पर मशीनों व पम्पसेटों की उपलब्धता कम नही पडनी चाहिए, इसके लिए और अधिक पम्पसेट खरीद लिए जाए। उन्होने नगर आयुक्त को निर्देश दिए कि वर्तमान स्थिति को देखते हुए नगर निगम में आउटसोर्सिंग से मैनपावर को बढाया जाए। उन्होने शहर में संचालित छोटी-बडी 120 डेयरी संचालको पर कार्यवाही करने के भी निर्देश दिए।

रिपोर्ट-मयंक शर्मा

About Samar Saleel

Check Also

आईटीआई में द्वितीय चरण के प्रवेश की अंतिम तिथि 29 सितम्बर

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ। व्यावसासयिक शिक्षा एवं कौशल विकास  विभाग के ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *