Breaking News

‘पेटीएम के खिलाफ की गई कार्रवाई की समीक्षा की कोई गुंजाइश नहीं’, गवर्नर बोले- इस हफ्ते आएगा FAQ

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर ने पेटीएम पर हुई कार्रवाई पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा भारत ने डिजिटल सार्वजनिक बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देने में अग्रणी भूमिका निभाई है। पेटीएम पर हुई कार्रवाई पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि व्यापक आकलन के बाद ही विनियमित संस्थाओं के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

'पेटीएम के खिलाफ की गई कार्रवाई की समीक्षा की कोई गुंजाइश नहीं', गवर्नर बोले- इस हफ्ते आएगा FAQ

उन्होंने कहा कि पेटीएम पेमेंट बैंक के खिलाफ की गई कार्रवाई की समीक्षा की कोई गुंजाइश नहीं है। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा, हम इस सप्ताह एक एफएक्यू जारी करेंगे। मैं आप सभी से जब तक यह जारी नहीं हो जाता तब तक प्रतीक्षा करने का अनुरोध करता हूं।

हिंदू मंदिर के उद्घाटन में शामिल होने वाले मेहमानों को मिलेगा अनोखा उपहार, बच्चों ने बनाया ‘छोटा खजाना

रिजर्व बैंक की ओर से निर्णय चाहे बैंक हो, भुगतान बैंक हो या सहकारी बैंक सभी के लिए उचित विचार-विमर्श और प्रक्रिया के बाद लिए जाते हैं। आरबीआई गवर्नर ने कहा कि पेटीएम ही नहीं, हम किसी के भी खिलाफ कार्रवाई करते हैं तो सामान्य तौर पर, महीनों और वर्षों तक बातचीत करते हैं। ऐसे में समीक्षा के लिए शायद ही कोई जगह है।

रनवे पर हो रहे हादसों को कम करने के लिए नियामक ने जारी किया सर्कुलर, जापान की घटना के बाद लिया निर्णय

समीक्षा शब्द का उपयोग उचित नहीं है। हमारी प्राथमिकता है कि ग्राहकों को कोई असुविधा न हो, इसलिए हमने एक महीने का समय दिया है। कार्रवाई 31 जनवरी को की गई। एक महीने का समय (29 फरवरी तक) दिया गया है, क्योंकि ग्राहक हित सबसे ऊपर है। बता दें कि सोमवार की सुबह ही वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दिल्ली में भारतीय रिजर्व बैंक के केंद्रीय बोर्ड के साथ बैठक की। इस बैठक में केंद्रीय बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास भी मौजूद रहे।

About News Desk (P)

Check Also

परिणय सूत्र में बंधकर 121 कन्याओं ने शुरू की जीवन की नयी पारी

सरोजनीनगर में मानव एकता एसोसिएशन ने आयोजित किया सामूहिक विवाह समारोह लखनऊ। मानव एकता एसोसिएशन ...