Breaking News

जहरीली शराब कांड से सदमे में हरिद्वार, आबकारी विभाग के दो निरीक्षक व नौ सिपाही हुए निलंबित

रिद्वार पंचायत चुनाव में शराब ग्रामीणों की मौत की वजह बन गया। ईशम और तेजपाल की मौत के बाद भी चुनाव लड़ रहे प्रत्याशी नहीं माने और प्रत्याशियों ने धड़ल्ले से शराब बांटी।आबकारी आयुक्त हरि चंद्र सेमवाल  ने जाकारी दी की आबकारी विभाग के दो निरीक्षक सहित नौ सिपाहियों को निलंबित कर दिया गया है।

तेजपाल (55) पुत्र रामसिंह निवासी फुलगढ़ और ईशम (32) पुत्र राजिंदर निवासी शिवगढ़ ने शराब पी थी।  इस दिन नामांकन करने के बाद गांव में जश्न का माहौल था। जहां कई सौ लीटर शराब बांटी गई थी।

आबकारी आयुक्त मुख्यालय की प्राथमिक रिपोर्ट में मृत व्यक्तियों के शराब के सेवन की पुष्टि हुई है। इस प्रकरण में लक्सर हरिद्वार एवं जनपदीय प्रवर्तन हरिद्वार के स्टाफ की लापरवाही सामने आई है।

दोनों शराब पीने के बाद रात को सो गए थे। सुबह दोनों ही मृत अवस्था में मिले थे। परिजनों ने इनका अंतिम संस्कार कर दिया था। गांव में बात फैल चुकी थी, लेकिन किसी ने इस बात पर ध्यान नहीं दिया।  जमकर शराब बांटी गई और नतीजा चार ग्रामीणों की मौत और हो गई।हरिद्वार के पथरी क्षेत्र में शिवगढ़ और फूलगढ़ में जहरीली शराब पीने से पांच लोगों की मौत के बाद देहरादून पुलिस अलर्ट हो गई है।

About News Room lko

Check Also

लोगों को चौरीचौरा का इतिहास बताने के लिए सचिन गौरी वर्मा लगवा रहे नि:शुल्क फ्लेक्स

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें गोरखपुर। चौरी चौरा काशी हिंदू विश्वविद्यालय के पूर्व ...