तीन वर्ष में जलशक्ति विकास

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार की उपलब्धियों के साथ उपचुनाव में गए थे। इसका पार्टी को लाभ मिला। विगत करीब तीन वर्षों के दौरान अनेक अभूतपूर्व विकास कार्य हुए है। इनमें जलशक्ति क्षेत्र की उपलब्धियां भी शामिल है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विगत तीन वर्षाें में जलशक्ति विभाग द्वारा उल्लेखनीय सफलता प्राप्त की गयी है। वर्तमान सरकार के पहले वर्ष में प्रदेश के अड़तीस जनपद बाढ़ से प्रभावित हुए थे।

इनमें व्यापक जन धन की हानि हुई थी। समय के साथ विभाग की कार्यपद्धति में निरन्तर बदलाव आया है। तकनीक का उपयोग करके ड्रेजिंग के माध्यम से कटान करने वाली नदियों को चैनलाइज किया गया है। इससे बाढ़ नियंत्रण में सफलता मिली। साथ ही, वर्षाें से लम्बित सिंचाई परियोजनाओं को पूरा किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विकास के लिए तकनीक के व्यापक प्रयोग के साथ ही पूर्ण जनशक्ति उपलब्ध करायी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2018 में प्रधानमंत्री द्वारा मीरजापुर में बाढ़ सागर परियोजना का लोकार्पण किया गया। यह परियोजना योजना आयोग द्वारा वर्ष 1973 में स्वीकृत हुई थी। वर्ष 1978 में तत्कालीन प्रधानमंत्री मोरारजी देसाई द्वारा इसका शुभारम्भ किया गया। काफी धनराशि व्यय के बावजूद भी यह परियोजना लम्बित रही। वर्तमान राज्य सरकार द्वारा इस परियोजना को पूर्ण किया गया है। इससे जनता को लाभ हो रहा है।

Loading...

इसके अतिरिक्त, प्रदेश सरकार सरयू नहर परियोजना, मध्य गंगा परियोजना, अर्जुन परियोजना को पूर्ण करने के लिए संकल्पबद्ध होकर कार्य कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जलशक्ति विभाग एक बड़ा और महत्वपूर्ण विभाग है। विभाग के पास बड़ी जिम्मेदारी है। प्रदेश के प्रत्येक किसान को अधिकाधिक पैदावार प्राप्त करने हेतु पानी पहुंचाने के साथ ही वर्षा के समय बाढ़ से बचाव का कार्य जलशक्ति विभाग द्वारा किया जाता है।

डॉ. दिलीप अग्निहोत्री

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

कांग्रेस कार्यालय में मना प्रथम राष्ट्रपति का जन्मदिन

रायबरेली। जिला व शहर कांग्रेस कमेटी ने भारत के प्रथम राष्ट्रपति व भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *