Breaking News

CBSE paper leak : जब टीचर ही निकला चोर

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने CBSE paper leak में संलिप्त आरोपियों को पकड़ लिया है ,इसी के साथ ये भी खुलासा हुआ है की पेपर हिमाचल प्रदेश के ऊना से लीक हुआ था। इसमें एक शिक्षक और उनकी रिश्ते की भाभी अंजू बाला समेत यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की ऊना शाखा के मैनेजर शेरू राम व हेड कैशियर ओम प्रकाश को गिरफ्तार किया है।

CBSE paper leak : स्ट्रांग रूम से हुयी प्रश्न पत्र की चोरी

ये चोरी की घटना को स्ट्रांग रूम से ही अंजाम दिया गया था। दरअसल राकेश कुमार ऊना के डीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल में अर्थशात्र व कामर्स का शिक्षक है।
23 मार्च को राकेश 10वीं के कंप्यूटर साइंस की परीक्षा वाले दिन यूनियन बैंक से प्रश्नपत्र लाने गया था। उसी समय उसने स्ट्रांग रूम से 12वीं का अर्थशास्त्र के पेपर व 10वीं के गणित के पेपर पर हाथ साफ़ कर लिया था।

चूँकि अर्थशास्त्र व गणित का पेपर क्रमशः 26 मार्च व 28 मार्च को होनी थी , इस दौरान 23 मार्च की शाम ही दोनों विषयों के प्रश्नपत्र को वाट्सएप के जरिये लीक कर दिया गया।

कैसे हुआ पेपर-लीक

23 मार्च को कंप्यूटर साइंस परीक्षा वाले दिन राकेश कुमार जब यूनियन बैंक में प्रश्नपत्र लाने गया था, तभी स्ट्रांगरूम से उसने 12वीं के अर्थशास्त्र व दसवीं के गणित विषय का एक-एक प्रश्नपत्र चोरी कर लिया था।

अर्थशास्त्र का पेपर तो राकेश ने उसके साथ आए डीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल के क्लर्क अमित शर्मा व चपरासी अशोक के जरिये डीएवी स्कूल भिजवा दिया था, लेकिन गणित का प्रश्नपत्र उसने अपनी कार में रख लिया था।

शाम को घर लौटने पर राकेश ने अपने कोचिंग सेंटर में पढ़ने वाले दसवीं कक्षा के छात्र को घर बुलाकर उसे कोरे कागज पर प्रश्न लिखवा दिया और अपने मोबाइल से हस्त लिखित प्रश्नपत्र की तस्वीर खींच कर उसे अंजू बाला को वाट्सएप पर भेज दिया था।

अंजू बाला फिरोजपुर में एक इंस्टीट्यूट की लाइब्रेरी में काम करती है। उसने अपने बेटे के मोबाइल से प्रश्नपत्र पंचकूला में रहने वाली बहन को भेज दिया। उक्त महिला ने दिल्ली के रोहिणी में रहने वाली रिश्तेदार पूजा को भेज दिया। पूजा ने प्रश्नपत्र पश्चिम विहार में रहने वाली नीतू को भेज दिया। इस तरह परीक्षा वाले दिन तक सैकड़ों परीक्षार्थियों व अभिभावकों के पास प्रश्नपत्र पहुंच गए।

रिमांड पर लेकर की जाएगी पूछताछ

संयुक्त आयुक्त क्राइम ब्रांच आलोक कुमार ने बताया की आरोपियों को रिमांड पर लेकर पूछताछ ी जाएगी। उन्होंने बताया की डीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल के राकेश कुमार समेत क्लर्क अमित शर्मा व चपरासी अशोक को 7 अप्रैल को गिरफ्तार कर पूछताछ की गयी थी। जिसके बाद इस पेपरलीक के घटना क्रम की पहेली सुलझ पायी।

क्राइम ब्रांच ने कल राकेश कुमार के रिश्ते की भाभी अंजू बाला, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की ऊना शाखा के मैनेजर शेरू राम व हेड कैशियर ओम प्रकाश को गिरफ्तार किया है। इन पर आपराधिक लापरवाही के तहत पूछताछ जारी है।

About Samar Saleel

Check Also

भारत-अमेरिका के बीच 11वीं द्विपक्षीय वार्ता, प्रत्यर्पण सहित कई मुद्दों पर चर्चा

भारत और अमेरिका ने शुक्रवार को नई दिल्ली में 11वीं द्विपक्षीय राजनयिक वार्ता की। दोनों ...