Breaking News

जब लोगों ने खोला अपने अगले जन्म का राज

लखनऊ। सरल केयर फाउंडेशन की लॉक डाउन डेली एक्टिविटी में 62वें दिन सभी को यह बताने का टास्क दिया गया कि मानव जीवन को छोड़ कर किस योनी में जन्म लेना चाहते है। सरल केयर फाउंडेशन की प्रेसिडेंट रीता सिंह कहती है कि 22 मई को “एक्टिविटी एडमिन” की जिम्मेदारी साइंटिस्ट डॉक्टर शुचि त्रिपाठी ने निभाई। डॉक्टर शुचि त्रिपाठी बंगलुरू में रहती है। उनको कई तरह के अवार्ड भी मिल चुके है। लोगों ने एक्टिविटी को खूब इंजॉय किया। अलग अलग तरह जन्म लेने के विषय में बताया।”

सरल केयर फाउंडेशन ने 22 मार्च 2020 ऑन लाइन एक्टिविटी की शुरुआत की थी। इसका उद्देश्य लोक डाउन को सफल बनाने और लोगो को अपने घरों में सुरक्षित रखने का संदेश देने का था । इसके जरिये लोग अपने घरो में रहने के बाद भी एक्टिविटी को पूरा करने में व्यस्त रहते थे। ऑन लाइन एक्टिविटी में शिक्षा, शेरो शायरी, मनोरंजन, फैशन और सामाजिक संदेशो के टॉपिक लिए जाते थे।

Loading...

सरल केयर एक्टिविटी में लोगो बताया कि वह अगले जन्म में क्या बनना चाहते है। इन लोगो मे पारुल कपूर, अनुराग महाजन, अनुपम बाछिल, अंतरा श्रीवास्तव, नीरजा शुक्ला, रीना त्रिपाठी, अनीता शर्मा, डॉक्टर शुचि त्रिपाठी, अर्चना पंत, अर्चना गोस्वामी, इंद्रिका त्यागी, इरा मजूमदार, तान्या मिश्रा, शक्ति बाजपेई, डॉक्टर श्वेता भारद्वाज, अनीता भटनागर, रचना अग्रवाल, रागिनी दीक्षित, राजन सिंह, संचयिता, रेनू अग्रवाल, अलका सहाय, दीप्ति जेटली, राखी लखन, रितु गुप्ता, शर्मिला सिंह, रितु वर्मा, रीता पटेल, श्रद्धा बाजपेई, दिशा बाजपेई, अमिता अवस्थी, परणिका श्रीवास्तव, मंजूलिका अस्थाना, रीता सिंह, डॉ दीप्ति भल्ला, दीप्ति मित्तल, सुनीता राय, नागेंद्र बहादुर सिंह चौहान, अजिता सिंह, स्वरा त्रिपाठी, सरूपा तिवारी, अमिता सिंह, ज्योति सिंह, मनोज सिंह चौहान, शचि अवस्थी, संगीता रास्तोगी, मधु कीर्ति, दीप्ति सिंह, नूपुर सिंह, अमिता सिंह, सुरभि शर्मा, निधि कोहली, पूजा टंडन, सुधा चौधरी, रुचि रस्तोगी, संगीता सिंह, नीलू श्रीवास्तव और काशवी सिंह प्रमुख लोगों में थे।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

बियर पीने वाली लड़कियों की ये खूबियां को बारे में जानकर चौंक जाएंगे आप

अक्सर ये देखा गया है कि जो लोग साथ में नशा करते हैं उन लोगों ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *