Breaking News

2024 में लीप ईयर क्यों मनाया जा रहा है? जानिए अगर फरवरी में 29 तारीख न हो तो क्या होगा

वर्ष 2024 एक ‘लीप ईयर’ है। इस वर्ष फरवरी माह में 28 नहीं, 29 दिन होंगे और साल 366 दिन का रहेगा। यानी अन्य वर्षों की तुलना में लीप ईयर में एक दिन ज्यादा होता है। लीप ईयर हर चार साल में एक बार आता है, जिसमें 28 दिन की फरवरी में एक दिन बढ़ जाता है और 29 दिन हो जाते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि लीप ईयर क्या होता है और इस वर्ष में एक दिन अधिक कैसे हो जाता है? 28 दिन की फरवरी लीप ईयर में 29 दिन की कैसे हो जाती है और अगर लीप ईयर न हो तो क्या होगा? आइए लीप ईयर से जुड़े इन सभी सवालों के जवाब जानते हैं।

लीप ईयर किसे कहते हैं

लीप ईयर वह वर्ष है, जिसमें हर साल की तुलना में एक दिन अधिक होता है। ग्रेगोरियन कैलेंडर के मुताबिक, एक साल में 365 दिन होते हैं, लेकिन लीप ईयर में 366 दिन हो जाते हैं। ऐसे में जिस वर्ष में एक दिन ज्यादा हो, उसे लीप ईयर कहा जाता है।

लीप ईयर क्यों आता है?

हर चार साल में एक दिन अधिक होने की एक अहम वजह है। एक साल में दिनों की संख्या पृथ्वी के सूर्य की परिक्रमा करने पर निर्भर करता है। जब पृथ्वी सूर्य की परिक्रमा करती है तो दिन-रात होते हैं और मौसम बदलता है।

पृथ्वी को सूर्य के चारों ओर एक चक्कर पूरा करने में लगभग 365.242 दिनों का समय लगता है। यानी एक साल में अतिरिक्त 6 घंटे का वक्त लगता है। पृथ्वी के सूर्य की परिक्रमा में करने में लगे अतिरिक्त समय 0.242 दिन (6 घंटे) को अगर चार बार जोड़ा जाए तो एक दिन के बराबर होता है। यह बचा हुआ 0.242 दिन का समय चार वर्ष में जुड़ जाता है और एक दिन में परिवर्तित हो जाता है।

इसलिए कैलेंडर में हर चार साल में एक दिन अन्य वर्षों की तुलना में अधिक होता है। इसी को लीप ईयर करते हैं।

लीप ईयर न हो तो क्या होगा?

प्रभु यीशु के जन्म वर्ष से ग्रेगोरियन कैलेंडर की शुरुआत हुई। उसके चार साल बाद पहला लीप ईयर मनाया गया। लेकिन अगर हम लीप ईयर न मनाएं तो समय चक्र से हम आगे निकल जाएंगे। चार साल में एक अतिरिक्त दिन अगर कैलेंडर में न हो तो 100 साल बाद हम 25 दिन आगे होंगे, जिसके कारण मौसम में परिवर्तन की पता नहीं चल पाएगा।

अगला लीप ईयर कब होगा?

वर्ष 2020 में लीप ईयर मनाया गया था, जिसके चार साल बाद यानी 2024 में लीप ईयर है। वहीं अगला लीप ईयर 2028 में आएगा।

लीप ईयर का पता कैसे चलता है?

कोई वर्ष लीप ईयर है इसका पता लगाने के लिए कुछ गणनाएं की जा सकती हैं। अगर कोई साल लीप ईयर है तो उस वर्ष को चार से पूरी तरह भाग दिया जा सकता है। जैसे 2024 को 4 से पूरी तरह से भाग दे सकते हैं।

About News Desk (P)

Check Also

बेहद खास है हनुमान जी का ये मंदिर, यहां दर्शन के लिए पार करनी होती हैं 76 सीढ़ियां

भारत के तकरीबन हर राज्य में धार्मिक स्थल हैं। हर धार्मिक स्थल का अपना अलग ...