नियमित टीकाकरण माइक्रोप्लानिंग पर चिकित्सा अधीक्षक व अधिकारियों की कार्यशाला

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. लक्ष्मण सिंह और जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. ए.एन.राय ने सभी प्रतिभागियों को सर्वे, माइक्रोप्लानिंग और कुशल संचालन पर प्रशिक्षण दिया। डॉ. मुनेन्द्र शर्मा ने प्रतिभागियों के सवालों के जवाब….

सुल्तानपुर। बच्चों को गंभीर बीमारियों से बचाने के लिए सरकार की ओर से नियमित टीकाकरण (आर.आई.) कार्यक्रम चलाया जाता है। टीकाकरण से एक भी बच्चा व गर्भवती छूटने न पाए, इसके लिए आवश्यक माइक्रोप्लानिंग को लेकर जिले में डब्ल्यू.एच.ओ. के सहयोग से, शुक्रवार को, कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में सभी ब्लॉक के चिकित्सा अधीक्षक, चिकित्सा अधिकारी, स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी व ब्लॉक कार्यक्रम अधिकारियों ने प्रतिभाग किया।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ डीके त्रिपाठी ने किया कार्यशाला का शुभारंभ

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ डीके त्रिपाठी ने कार्यशाला का शुभारंभ किया और सभी प्रतिभागियों से अपेक्षा करते हुए कहा कि हम सभी मिलकर स्वास्थ्य कार्यक्रमों की माइक्रोप्लानिंग को बेहतर बनाकर कार्यक्रम के परिणामों को और बेहतर बना सकते हैं।

नियमित टीकाकरण माइक्रोप्लानिंग पर चिकित्सा अधीक्षक व अधिकारियों की कार्यशाला

कार्यशाला में डब्ल्यूएचओ के सब रीज़नल टीम लीडर डॉ. मुनेन्द्र शर्मा ने कहा कि किसी भी बड़े लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए उसकी कार्ययोजना बहुत ही महत्वपूर्ण होती है, कार्ययोजना की गुणवत्ता जितनी बेहतर होगी लक्ष्य पाना भी उतना ही आसान होता है।

उन्होंने कहा कि नियमित टीकाकरण से एक भी बच्चा एवं गर्भवती छूटने न पाए और भविष्य में टीकाकरण कार्यक्रम और प्रभावी रूप से चलाया जा सके, इसी उद्देश्य से आर.आई. माइक्रोप्लानिंग कार्यशाला का आयोजन किया गया है।

डब्ल्यूएचओ की एसएमओ डॉ. अमृता अग्रवाल ने कहा कि नियमित टीकाकरण पर माइक्रोप्लानिंग पहले भी होती रही है, पर अबतक मिले परिणामों के आधार पर माईक्रोप्लानिंग में नए आयामों को जोड़ते हुए उसे और सुदृढ़ बनाने के लिए यह कार्यशाला आयोजित की गई है।

उन्होंने कहा कि कार्यशाला में प्रत्येक ब्लॉक से तीन अधीक्षक व अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। यह प्रशिक्षण आगे ब्लॉक स्तर पर सभी स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को भी दिया जायेगा।

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. लक्ष्मण सिंह और जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. ए.एन.राय ने सभी प्रतिभागियों को सर्वे, माइक्रोप्लानिंग और कुशल संचालन पर प्रशिक्षण दिया। डॉ. मुनेन्द्र शर्मा ने प्रतिभागियों के सवालों के जवाब दिए, यूनिसेफ से डी.एम.सी. महेंद्र कुशवाहा ने सभी को कम्यूनिकेशन प्लान और यू.एन.डी.पी. से वैक्सीन कोल्डचेन मैनेजर संदीप तिवारी ने वैक्सीन, लॉजिस्टिक और वैक्सीन सप्लाई पर जानकारी दी।

कार्यशाला में उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. लाल जी, डब्ल्यू.एच.ओ. से अशोक प्रताप सिंह, जिला कार्यक्रम प्रबंधक संतोष यादव, अर्बन हेल्थ कोऑर्डिनेटर विकास यादव, सीफार से मण्डल समन्वयक आशीष कुमार, सभी चिकित्सा अधीक्षक व चिकित्सा अधिकारी एवं ब्लॉक अधिकारी उपस्थित रहें।

रिपोर्ट-शिव प्रताप सिंह सेंगर

About reporter

Check Also

मृतक छात्र के घर पहुंचा कांग्रेस का प्रतिनिधि मंडल, कहा-अब कहा हैं बाबा का बुलडोजर

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें कांग्रेस का आरोप – आरोपी शिक्षक पर क्यों ...