Breaking News

योगी सरकार का होम आइसोलेट और क्वारंटाइन मरीजों की इम्यूनिटी बढ़ाने पर ज़ोर

लखनऊ। कोरोना की वैश्विक महामारी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहल पर संक्रमितों के उपचार में एलोपैथ से लेकर आयुर्वेद, होम्योपैथ और यूनानी समेत सभी पैथियां होम आइसोलेट संक्रमितों को निशुल्क मेडिकल और आयुष किट दे रही हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से होम आइसोलेट और क्वारंटीन 90 फीसदी से अधिक कोरोना संक्रमितों को मेडिकल किट दिया गया है। जबकि आयुष विभाग की ओर से 13 अप्रैल से पांच मई तक यानि 23 दिन में आठ लाख 21 हजार 110 लोगों को आयुष किट दी गई है।

सीएम योगी ने हाल ही में आयुष विभाग को निर्देशित किया था कि कोरोना संक्रमितों के उपचार के लिए निशुल्क मेडिकल किट के अलावा आयुष किट भी दी जाए। सीएम के निर्देश पर होम आइसोलेशन में रह रहे 90 फीसदी से ज्यादा लोगों को अभियान चलाकर मेडिकल किट दी गई है। इसके अलावा आयुष विभाग ने भी अभियान चलाकर होम आइसोलेट और क्वारंटीन संक्रमितों को आयुष किट दिया है। 13 अप्रैल से पांच मई तक आठ लाख 21 हजार 110 लोगों को आयुष किट दी गई है। इसमें 58,850 लोगों को आयुष किट, 37571 लोगों को आयुष काढ़ा, सात लाख सात हजार 127 लोगों को होम्योपैथी औषधि, 4372 लोगों को यूनानी किट और 5628 लोगों को यूनानी जोशांदा दी गई है। अपर मुख्य सचिव आयुष प्रशांत त्रिवेदी ने बताया कि सीएम योगी के निर्देश पर विभाग की ओर से लगातार होम आइसोलेशन में रहे रहे लोगों को आयुष किट का वितरण निशुल्क किया जा रहा है। इसके अलावा लोगों को इम्यूनिटी बूस्ट करने के टिप्स भी दिए जा रहे हैं।

अप्रैल में सात लाख 23 हजार 190 लोगों को औषधियां

अगर सिर्फ पिछले माह अप्रैल की बात करें, तो आयुष विभाग की ओर से सात लाख 23 हजार 190 लोगों को औषधियां दी गई हैं। इसमें 91,692 संक्रमितों को आयुर्वेदिक, 6,28,300 संक्रमितों को होम्योपैथिक और 3198 संक्रमितों को यूनानी दवाइयां दी गई हैं। महज दो दिनों तीन और चार मई को 55,579 संक्रमितों को दवाइयां दी गई हैं। इसमें 6848 आयुष किट, 7644 आयुष काढ़ा, 45904 होम्योपैथी औषधि, 959 यूनानी किट और 1820 यूनानी जोशांदा दी गई है।

आयुष विभाग निशुल्क दे रहा औषधियां

आयुष विभाग की ओर से होम आइसोलेशन के मरीजों को जिला प्रशासन की मदद से आयुष किट, होम्योपैथिक औषधि, यूनानी किट, यूनानी जोशांदा और निशुल्क काढ़ा भेजा जा रहा है। औषधीय गुणों युक्त काढ़ा आयुष विभाग के डॉक्टरों ने स्वयं तैयार किया है। मुख्यमंत्री के निर्देश पर काढ़ा, दवाओं की किट समेत अन्य औषधियों के वितरण तेजी से किया जा रहा है। आयुष विभाग के चिकित्सक लोगों को आसन और योग की उपयोगिता बताने के साथ घर के बगीचे में उगने वाली औषधियों के लाभकारी गुणों से भी परिचित करा रहे हैं।

About Samar Saleel

Check Also

आज संसद परिसर में बजट के खिलाफ विपक्ष का प्रदर्शन; राज्यों की अनदेखी का आरोप

नई दिल्ली:  कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे के आवास पर सहयोगी दलों की बैठक में शनिवार ...