Breaking News

औरैया : ससुराल में युवक ने फांसी लगा की आत्महत्या

औरैया। उत्तर प्रदेश में औरैया जिले के बिधूना क्षेत्र के गांव कुदरकोट में एक युवक ने मंगलवार की दोपहर अपनी ससुराल में मकान के कच्चे कमरे की छत की धन्न से रस्सी के सहारे लटक कर आत्महत्या कर ली। घर में सो रही उसकी आठ वर्षीय पुत्री जब जगी तो उसने पिता को फांसी पर लटका देखा जिससे वह भयभीत हो गयी। पुत्री ने भाग कर खेतों पर काम कर रही मां व नानी को घटना की जानकारी दी।

पुलिस सूत्रों ने मंगलवार को यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इटावा जिला के कस्बा भरथना निवासी नीलेश कुमार (45 वर्ष) पुत्र सुभाष चन्द्र की शादी कुदरकोट निवासी धनदेवी के साथ हुई थी। पत्नी धनदेवी अपने माता-पिता की एकलौती पुत्री थी। उसके पिता की मौत हो चुकी है वह अपनी पुत्री दीक्षा के साथ मां कमला देवी के पास मायके में रहती थी और खेती किसानी का काम करती है।

पति नीलेश का अपनी पत्नी व पुत्री से मिलने अक्सर मिलने कुदरकोट आता जाता रहता था। नीलेश पिछले रविवार को अपनी पत्नी व पुत्री से मिलने कुदरकोट आया था। बताया गया कि नीलेश शराब पीने का आदी था। मंगलवार को जब नीलेश की पत्नी धनदेवी अपनी मां के साथ खेत में मूंग की फसल काटने जा रही थी तभी नीलेश ने उससे पैसे मांगे जिस पर पत्नी ने पैसे देने से मना कर दिया। जिसके बाद दिन में दोपहर 12 बजे के बाद नीलेश ने घर के अंदर कच्चे कमरे में छत की धन्न में रस्सी के सहारे लटककर आत्महत्या कर ली। नीलेश ने जिस समय आत्महत्या की उस समय उसकी पुत्री घर में सो रही थी। पुत्री दीक्षा जब सो कर जगी तो वह पिता को रस्सी से लटका देख भयभीत हो गयी। जिसके बाद उसने खेत पर जाकर इस बात की जानकारी अपनी मां व नानी को दी।
बताया कि घर पर पहुंचने के बाद परिजनों ने घटना की जानकारी पुलिस व भरथना में नीलेश के घर वालों को दी।

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घटना के बारे में पूछताछ की। जिसके बाद परिजनों ने पोस्टमार्टम न कराये जाने की बात कही। जिस पर पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर परिजनों को सौंप दिया। बताया गया कि युवक शराब पीने का आदी थी, जिसके चलते वह कई बार अपने घर पर भी फांसी लगाने का कदम उठा चुका था, लेकिन हर बार बच गया। कुदरकोट चौकी इंचार्ज मुनेन्द्र सिंह चौहान ने बताया कि परिजनों से पूछतांछ करने पर पता चला है कि युवक शराब पीने का आदी था। आज घर वालों ने रूपए देने से मना किया तो उसके द्वारा यह कदम उठा लेने की बात सामने आयी है। परिजनों ने पोस्टमार्टम कराने से मना किया जिसके बाद पंचनामा भरकर शव को मृतक की पत्नी धनदेवी व भाई जगदीश के सुपुर्द कर दिया गया है।

रिपोर्ट – राहुल तिवारी

About Samar Saleel

Check Also

देश के हित में शिक्षा नीति

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें राज्यपाल आनंदीबेन पटेल नई शिक्षा नीति के प्रभावी ...