Indian Army के ताकत का आज होगा इज़ाफ़ा

भारतीय सेना Indian Army के लिए आज बहुत ही महत्वपूर्ण दिन है। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत आज ‘के9 वज्र’ और ‘एम777 होवित्जर’ समेत नई तोपों और उनके उपकरणों को तोपखाने में शामिल करेंगी। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि नासिक के देवलाली स्थित तोपखाने में एक समारोह के दौरान यह प्रक्रिया शुरू होगी।

Indian Army : 90 तोपों का निर्माण मेक इन इंडिया..

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल अमन आनंद ने गुरुवार को संवाददाताओं को बताया कि नवंबर 2020 तक यानी दो साल में 4,366 करोड़ रुपए की 100 के9 वज्र तोपों को तोपखाने में शामिल कर लिया जाएगा। इस बैच की 10 तोपें इस माह के अंत तक तोपखाने में पहुंच जाएंगी। वहीं, 90 तोपों का निर्माण मेक इन इंडिया के तहत होगा। बताया जाता है कि K-9 वज्र तोप 39 किमी तक अचूक निशाना लगाने की क्षमता रखती है और यह तोप दिन और रात, कभी भी फायर करने में सक्षम है। 40 अन्य तोपें अगले साल नवंबर में मिलेंगी। जबकि 50 वज्र तोपें नवंबर 2020 में हासिल होंगी।

स्वदेशी के9 वज्र की पहली रेजिमेंट को पहली बार भारतीय निजी क्षेत्र तैयार कर रहा है। देश में पहली बार किसी तोप का निर्माण हो रहा है। के9 वज्र की पूरी खेप अगले साल जुलाई तक बनकर तैयार हो जाने की पूरी उम्मीद है। इन तोपों की मारक क्षमता 28-38 किलोमीटर तक है। बताया जा रहा है कि K-9 वज्र को साउथ कोरिया की कंपनी हनवहा टेक विन ने मेक इन इंडिया के तहत तैयार किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *