Breaking News

PM मोदी ने सरदार सरोवर बांध पर मां नर्मदा की पूजा-अर्चना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आज 69वां जन्‍मदिन है। उन्‍होंने नमामि देवी नर्मदे महोत्सव के तहत सरदार सरोवर बांध पर मां नर्मदा की पूजा अर्चना करके अपना जन्‍मदिन मनाया। साथ ही नर्मदा जिले के केवड़िया में बांध तथा स्टैचू ऑफ यूनिटी के पास चल रहीं विकास परियोजनाओं का जायजा लिया। अब प्रधानमंत्री केवड़िया में बांध स्थल पर आयोजित एक जनसभा को संबोधित कर रहे हैं। समारोह के लिए गुंबद के आकार का एक बड़ा पंडाल बनाया गया है जिसमें बड़ी संख्‍या में नर्मदा, भरूच और छोटाउदयपुर जिलों से लोग आए हुए हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को 70 साल तक भेदभाव का सामना करना पड़ा है। इसके दुष्परिणाम, हिंसा और अलगाव के रूप में देश ने भुगता है। सरदार साहब की प्रेरणा से ही सरकार ने एक जरूरी फैसला देश के हित में लिया है। हम जम्मू, कश्मीर और लद्दाख में विश्वास और विकास की गंगा बहाएंगे। यह सेवक भारत की एकता और श्रेष्ठता के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है। हमारी सरकार ने 100 दिन में कई बड़े फैसले लिए हैं। हम आप सबको विश्‍वास दिलाना चाहते हैं कि हमारी नई सरकार पहले से भी तेज गति से काम करेगी और बड़े लक्ष्‍यों को हासिल करेगी।

  • प्रधानमंत्री ने कहा कि आज का दिन सरदार साहब द्वारा भारत की एकता की उनकी कोशिशों का स्वर्णिम पृष्ठ है। आज हैदराबाद मुक्ति दिवस भी है। सरदार साहब की कोशिशों से आज के दिन 1948 में हैदराबाद का भारत में विलय हुआ था। हैदराबाद आज देश की उन्नति और प्रगति में पूरी मजबूती से योगदान दे रहा है। कल्पना करें यदि सरदार पटेल जी की वह दूरदर्शिता ना रहती तो आज भारत का नक्शा कैसा होता और इसकी समस्याएं कितनी विकराल होतीं। एक भारत, श्रेष्ठ भारत के उनके सपने को आज देश साकार होते हुए देख रहा है। आजादी के दौरान जो काम अधूरे रह गए थे उन्‍हें आज देश पूरा करने की कोशिशें कर रहा है।

 

  • टूरिज्म की बात जब आती है तो स्टेचू ऑफ यूनिटी की चर्चा स्वभाविक है। स्‍टैच्‍यू ऑफ यूनिटी से पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा मिला है। इसके कारण केवड़िया और गुजरात पूरे विश्व के टूरिज्म मैप पर प्रमुखता से आ गया है। पर्यटकों को आकर्षित करने के मामले में स्‍टैच्‍यू ऑफ यूनिटी ने अमेरिका के स्‍टैच्‍यू ऑफ लिबर्टी को भी पीछे छोड़ दिया है। इसके लोकार्पण के अभी केवल 11 महीने ही हुए हैं लेकिन अब तक 23 लाख से अधिक पर्यटक देश और दुनिया से यहां आ चुके हैं। हर दिन यहां औसतन साढ़े आठ हजार टूरिस्ट आ रहे हैं। मुझे बताया गया है कि पिछले महीने जन्माष्टमी के दिन तो रिकॉर्ड 34 हजार से अधिक पर्यटक यहां पहुंचे थे। अब हमें इस क्षेत्र को केवल सिंगल यूज प्‍लास्टिक से बचाना है।

 

  • प्रधानमंत्री ने कहा कि आज कच्छ और सौराष्ट्र के उन क्षेत्रों में भी मां नर्मदा की कृपा हो रही है जो कभी सूखे से जूझ रहे थे। गुजरात में आज सिंचाई का नेटवर्क खड़ा हुआ है, पानी को बचाने का अभियान चलाया गया जिससे 12 लाख किसान परिवारों को फायदा हुआ है। गुजरात की 19 लाख हेक्टेयर भूमि खेती लायक हो गई है। IIM अहमदाबाद के एक अध्‍ययन में पाया गया है कि माइक्रो इरिगेशन के कारण ही गुजरात में 50 फीसद तक पानी की बचत हुई है। नर्मदा का पानी पारस है जो मिट्टी को सोना बना देता है। आज कच्छ नहीं, गुजरात के बड़े हिस्से के लिए पारस साबित हो रहा है।

 

  • पीएम ने कहा कि आज का यह अवसर बहुत भावनात्मक है। सरदार पटेल ने जो सपना देखा था वह दशकों बाद आज पूरा हो रहा है। सरदार सरोवर बांध और सरदार साहब की दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा, दोनों ही उसी इच्छाशक्ति और उसी संकल्पशक्ति के प्रतीक हैं। आज निर्माण और सृजन के देवता विश्वकर्मा जी की जयंती है। नए भारत के निर्माण के जिस संकल्प को लेकर हम आगे बढ़ रहे हैं, उसमें भगवान विश्वकर्मा जैसी इच्छाशक्ति बहुत जरूरी है।

 

  • प्रधानमंत्री ने कहा कि पर्यावरण की रक्षा के साथ साथ भी विकास हो सकता है। प्रकृति हमारे लिए आराध्य है, पर्यावरण को बचाते हुए कैसे विकास किया जाता है, इसका उदाहरण केवडिया में देखने को मिलता है। एक तरफ सरदार सरोवर बांध है, बिजली उत्पादन के यंत्र हैं तो दूसरी तरफ एकता नर्सरी, बटर-फ्लाई गार्डन जैसी इको-टूरिज्म से जुड़ी बहुत ही सुंदर व्यवस्थाएं हैं।

 

  • पीएम मोदी ने केवड़िया में बांध स्थल पर आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि कभी मुझे मन करता था कि फोटो निकालूं लेकिन आज मन कर रहा था कि काश मेरे हाथ में कैमरा होता और मैं इन पलों को कैद कर लेता। आज सरदार पटेल का सपना साकार हुआ है। नर्मदा की योजना से गुजरात, राजस्थान, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र के किसानों को लाभ मिलेगा।

पीएम मोदी केवड़िया के पास गरुणेश्वर गांव में भगवान दत्तात्रेय के मंदिर पहुंचे और वहां पूजा अर्चना की।

सरदार सरोवर बांध पर प्रधानमंत्री ने माता नर्मदा की पूजा अर्चना की।

 

– प्रधानमंत्री ने स्‍टैच्‍यू ऑफ यूनिटी का दौरा किया और वहां स्थित एकता नर्सरी का भी अवलोकन किया।

Loading...

About Jyoti Singh

Check Also

सरकार ने स्टीकर लगे फलों की बिक्री लगाया प्रतिबंध, उठाया ये कदम…

छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य में स्टिकर लगे फलों की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया है। ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *