पिकप व बस की भिड़ंत में 7 लोगों की मौत,कई घायल

रायबरेली। ऊंचाहार कोतवाली क्षेत्र के गांव मनीरामपुर पुल के निकट ऊंचाहार सलोन मार्ग पर सवारियों से भरी पिकप व बस में आमने सामने से हुई भिडंत में करीब आधा दर्जन लोगों की मौत हो गई,जबकि तीन दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। कई घायलो की हालत गंभीर होने पर उन्हें प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। वही कुछ गंभीर घायलों को ट्रामा लखनऊ भेजा गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुर्घटना में मृतकों के परिजनों को 2 लाख और गंभीर रूप से घायलों को 50,000 रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है।

घायलों को सीएचसी से जिला अस्पताल ले जाया गया है जहां पर उनका उपचार किया जा रहा है। हादसे में 7 मौतें हुई है,गंभीर घायलों को लखनऊ स्थित ट्रामा भेजा जा रहा है- सुजाता सिंह, एसपी

6 people died many injured in pickup and bus accident

बताते चले कि गंगापार स्थित सकराना देवस्थली दर्शन करने पिकप सवार 35 से 40 लोग गए हुए थे। जहां से वापस आते समय ऊंचाहार के गांव मनीरामपुर पुल के निकट पिकप व प्राइवेट बस में आमने सामने से भिडंत हो गई। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को अस्पताल भेजना शुरू कर दिया। जहां पिकप सवार पार्वती पत्नी रतीपाल निवासिनी मदारीपुर,ऊषा पत्नी कमलेश निवासिनी खालिकपुरकला की सीएचसी में इलाज दौरान मौत हो गयी,जबकि वंशीलाल निवासी मदारीपुर, रामरती पत्नी जलेश्वर निवासी मदारीपुर,अंकित उर्फ शोभित निवासी कंदरावां ने एनटीपीसी अस्पताल में इलाज के दौरान डीएम तोड़ दिया।

बस चालक के खिलाफ गैरइरादतन हत्या का केस दर्ज होगा,जिसमे कोई लापरवाही नही बरती जाएगी- विनीत सिंह, सीओ 

एक व्यक्ति की जिला अस्पताल ले जाते समय रास्ते में मौत हो गई है, जिसकी शिनाख्त समाचार लिखे जाने तक नही हो सकी थी। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक दुर्घटना में पिकप सवार निर्मला,सत्यम,रतीपाल,शांती देवी, अनीता, आयुष, सुनीता, राजेश, अंकित निवासीगण मदारीपुर, धनपति निवासी खिरौधरपुर,मधु निवासी पूरे बल्दी समेत 35 से 40 लोग घायल हुए हैं। जबकि बस सवार भी कई लोगों के भी घायल होने की सूचना है।पिकप सवार सभी घायलो को प्राथमिक उपचार के बाद एनटीपीसी व सीएचसी से जिला अस्पताल के लिये रेफर कर दिया गया। जिसमे कई घायलो की हालत नाजुक बनी हुयी है।इस भीषण हादसे की खबर मिलते ही मौके पर पहुंचे विधायक डॉ. मनोज पांडेय ने अपनी निजी गाड़ी से घायलों को हॉस्पिटल पहुंचाया।

रिपोर्ट-रत्नेश मिश्रा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *