पेट्रोल पम्प की कारस्तानी : 13.6 लीटर क्षमता वाली टंकी मे ठूँसा 15.88 लीटर पेट्रोल

लखनऊ- पेट्रोल पम्प की मानक व माप को लेकर अक्सर सवाल उठते रहते है । आम आदमी की गाढ़ी कमाई पर अक्सर पेट्रोल पम्प संचालक द्वारा कैंची चलाने का मामला प्रकाश मे आता रहता है । ऐसा ही एक मामला लखनऊ के विकास नगर थानाक्षेत्र मे देखने को मिला , जहाँ एक पेट्रोल पम्प द्वारा 13.6 लीटर की क्षमता वाली टंकी मे  15.88 लीटर पेट्रोल ठूँसने का मामला प्रकाश मे आया है । हालांकि पेट्रोल पम्प मैनेजर पेट्रोल माप को लेकर अपनी दलीले दे रहा रहा है जबकि वाहन कंपनी के तकनीशियन क्षमता से ऊपर की बात पर सवाल उठा रहे है ।

प्राप्त जानकारी के अनुसार शादाब कॉलोनी विकास नगर निवासी मो जफ़र पुत्र लईक अहमद  रविवार रात को विकास नगर थानाक्षेत्र के रिंग रोड स्थित इंडियन ऑइल की भरथना फिलिंग स्टेशन पर अपनी दो पहियाँ वाहन (हीरो ग्लैमर ) मे तेल भराने पहुंचे । जफ़र ने पेट्रोल पम्प अटटेंडेंट से पूरी टंकी भरने की बात की । जफ़र को पेट्रोल पम्प द्वारा 15.88 लीटर पेट्रोल का कुल 1200 रुपये पर बिल थमा दिया गया । बताते चलें हीरो मोटर्स तरफ से हीरो ग्लैमर मे 13.6 लीटर फ्युल टैंक का दावा किया जाता है । अब सबसे बड़ा सवाल यह है की 13.6 लीटर की क्षमता वाली टंकी मे 15.88 लीटर पेट्रोल कैसे आया ?

 

क्या कहते है जानकार ?

कंपनी के तरफ से ग्लैमर मे 13.6 लीटर वाली क्षमता की फ्युल टैंक दिया जाता है , टंकी मे अधिकतम 1 लीटर पेट्रोल की गुंजाइश होती जो की  एयर प्रैशर के लिए आवश्यक होती है । अगर इस स्थान मे भी पेट्रोल ठूंस दिया जाये तो गाड़ी चलने पर फ्युल छलक कर बाहर आ जाएगा । इस मामले मे 2.88 लीटर पेट्रोल अधिक हो रहा है जो असंभव है – कुलदीप अवस्थी (वर्क शॉप मैनेजर ) सन मोटर्स लखनऊ

 

विवाद पर हमने पेट्रोल निकलवा कर पेट्रोल निकलवा कर पेट्रोल पम्प पर मौजूद माप उपकरण से माप करवा कर साबित कर दिया था- बृजबिहारी यादव (पेट्रोल पम्प मैनेजर ) भरथना फिलिंग स्टेशन

 

सबसे बड़ा सवाल ????

जब टंकी मे अधिकतम 1 लीटर पेट्रोल ही आ सकता है तो 2.88 लीटर कैसे ठूँसा गया ??

About Samar Saleel

Check Also

उत्तराखंड के पपदेव गांव में मृत मिला तेंदुए का एक बच्चा, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में आई ये वजह

उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में जिला मुख्यालय के पपदेव गांव में तेंदुए का एक बच्चा मृत ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *