West Bengal में दुर्भाग्यपूर्ण दर्दनाक सांप्रदायिक हिंसा पर सियासत तेज हो गई

West Bengal में दुर्भाग्यपूर्ण दर्दनाक सांप्रदायिक हिंसा पर सियासत तेज हो गई है। जिससे आसनसोल में सांप्रदायिक हिंसा पर राजनीतिक हलचल तेज हो गई है। आसनसोल और रानीगंज में हिंसा के बाद शनिवार को राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी ने स्थितियों का जायजा लेने पहुंचे। वह खुद ​दुर्भाग्यपूर्ण दर्दनाक सांप्रदायिक हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा करेंगे। वहीं, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने इस मामले के लिए एक टीम का गठन किया है। जो इलाके का दौरा करेगी और वहां के हालात पर अपनी रिपोर्ट पार्टी प्रमुख को सौंपेगी।

West Bengal, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राज्यपाल के दौरे के विरोध में

राज्यपाल आसनसोल के सर्किट हाउस जाएंगे। वहां के स्थानीय प्रशासन के साथ मीटिंग भी करेंगे। इसके बाद आसनसोल के प्रभावित इलाकों का दौरा करेंगे। त्रिपाठी उस पुलिसकर्मी से भी मिलेंगे जिसका हाथ रानीगंज हिंसा में बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुआ था। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राज्य में हिंसा के प्रति कोई खास रक्षात्मक शांति के उपाय को छोड़ राज्यपाल के दौरे के विरोध में हैं।

लोगों को किया गया गिरफ्तार

रामनवमी जुलूस के दौरान कई घरों और दुकानों में तोड़फोड़ और आगजनी की गई। जिससे तनाव फैल गया है। इसके साथ 19 लोगों को इस क्षेत्रीय मामलों में गिरफ्तार किया गया। केंद्र सरकार की हरकत के बाद ​इस हिंसा पर रोक लगाई जा सकी। लेकिन इसके बाद भी क्षेत्र में तनाव फैला हुआ है।

About Samar Saleel

Check Also

इंडियन आर्मी की भेट चढ़ा विंग कमांडर अभिमंदन को पकड़ने वाला पाकिस्तान कमांडों

बालाकोट एयर हड़ताल के नायक कहे जाने वाले विंग कमांडर अभिमंदन पाकिस्तानी एफ-16 लड़ाकू विमान गिराते वक्त ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *