Law and order पर सीएम योगी ने पुलिस को दिखाया आईना

लखनऊ। कानून-व्यवस्था Law and order को मजबूत करने वाले उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा शुक्रवार को यूपी 100 कार्यालय में वरिष्ठ आईपीएस अधिकारियों का कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि के रूप में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहुंचे। इस दौरान डीजीपी सहित भारी संख्या में पुलिस अधिकारी उपस्थित रहे। इस दौरान आईपीएस अधिकारियों को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पुलिस वीक का यह कार्यक्रम फील्ड में तैनात पुलिस अधिकारियों और मुख्यालय में कार्यरत वरिष्ठ अधिकारियों के मध्य बातचीत एवं एक दूसरे के अनुभव को साझा करने तथा संवाद का बेहतर माध्यम है। सीएम ने कहा कि किसी जिला में अच्छा काम करने वाले आईपीसएस अधिकारी को जनता तबादले के बाद भी सराहना करती है, लेकिन ख़राब अधिकारी के जाने के बाद मंदिर में प्रसाद चढ़ाता है और कहता है कि बढ़िया हुआ बला से छुट्टी मिली।

Law and order को लेकर

कानून-व्यवस्था Law and order को लेकर सीएम ने कहा कि यूपी पुलिस सबसे बड़ा संगठन है। हमारी सरकार में पुलिस को बेहतर काम करने का मौका मिला। पुलिस के आक्रामक तेवर देखते हुए करीब 12000 कैदियों ने बेल निरस्त करवा ली और जेल चले गए। सीएम ने कहा कि पुलिस द्वारा अपराधियों के खिलाफ चलाये गए ऑपरेशन के बाद सैकड़ों दुर्दांत अपराधी मारे गए। इसके चलते प्रदेश में 5 लाख करोड़ रुपये के निवेश का प्रस्ताव आया है और यह सिर्फ प्रदेश के भीतर सुरक्षा के एक बेहतर वातावरण के कारण संभव हुआ है। सीएम ने कहा कि पुलिस सही ढंग से काम नहीं कर रही है।

हमारे पास वीमेन पॉवर लाइन 1090, एंटी रोमियो स्क्वॉड, 1081, सहित महिला हेल्पलाइन हैं लेकिन पुलिस सूचना मिलने के बाद भी सही ढंग से काम नहीं कर रही है। जनता में पुलिस के प्रति अच्छा सन्देश देने के लिए लोगों की संवेदनाएं अपने साथ जोड़ने का काम करना होगा।
पुलिस की लापरवाही नहीं होगी बर्दाश्त

सीएम ने कहा कि इस वर्दी का मतलब फाइलों के काम को निपटना नहीं है। अपराधियों को खत्म करना भी है। हमारी पुलिस मिलेट्री और पैरा मिलेट्री सब मिलकर जब अच्छा काम करती ही तो पब्लिक भी सराहना करती है। आम जनमानस पुलिस से बहुत अपेक्षा करती है। उसपर यूपी की पुलिस उतर रही है। अपराध नियंत्रण करने के जीरो टॉलरेंस की नीति पर काम कर रही है। आम जान मानस की नजर से एक संवेदनशील पुलिस होनी चाहिए। उसकी जेहान में संवेदना होनी चाहिए। बिना जाति, मजहब और संप्रदाय के बिना भेदभाव किये पीड़ित की सुनवाई होनी चाहिए। अपराधी कितना भी बड़ा हो उससे निपटने के लिए हम काम करेंगे। सीएम ने कहा कि पुलिस की लापरवाही से कोई भी बड़ी घटना पूरी वर्दी पर दाग लगा देती है।

 

About Samar Saleel

Check Also

पूर्व प्रधान की गोली मार कर हत्या

बागपत। जिले के धनौरा सिल्वरनगर गांव में बाइक सवार तीन हथियारबंद बदमाशों ने एक पूर्व ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *