Breaking News

औरैया में 24 वर्ष से वांछित 50 हजार रूपए का ईनामियां डकैत गिरफ्तार

औरैया। उत्तर प्रदेश में औरैया जिले के अयाना क्षेत्र में जनपद व थाना पुलिस ने 24 वर्षो से वांछित एवं शासन द्वारा 50 हजार रूपए के घोषित ईनामियां डकैत को गिरफ्तार कर लिया है। उक्त डकैत लालाराम गिरोह को मुख्य सदस्य था जो कि भेष बदलकर बाबा बन के रह रहा था।
पुलिस अधीक्षक अभिषेक वर्मा ने रविवार को यहां यह जानकारी दी।

औरैया में 24 वर्ष से वांछित 50 हजार रूपए का ईनामियां डकैत गिरफ्तार

उन्होंने बताया कि मुखबिर की सूचना पर औरैया व अयाना पुलिस ने लालाराम गिरोह के मुख्य सदस्य रहे व विगत 24 वर्षो से वांछित एवं शासन द्वारा वर्ष 2015 में 50 हजार रूपए के घोषित ईनामियां मोस्टवांटेड अभियुक्त छेदा सिंह उर्फ छिद्दा निवासी भासौंन को उसके घर से गिरफ्तार किया है। बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त के पास से बृजमोहन दास पुत्र राम बालक दास के नाम से फर्जी आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड तथा राशन कार्ड भी बरामद हुए है।

बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त छेदा सिंह उर्फ छिद्दा ने पुलिस पूछताछ में बताया कि वह लालाराम गैंग का सक्रिय सदस्य था। इस गैंग के साथ मिलकर उसने दर्जनों फिरौती हेतु अपहरण तथा लूट की घटनाएं की थीं। उसने वर्ष 1998 में गैंग के साथ मिलकर थाना अयाना क्षेत्र के जसवंतपुर गांव के चार लोगों का अपहरण किया था, जिसमें कुछ लोगों को फिरौती लेकर छोड़ा गया था तथा एक अपहर्ता को पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान छुड़वाया था। इसी मुकदमें में वांछित चल रहा था। जिसके बाद धीरे-धीरे जब गैंग समाप्त होने लगा तो पिछले 15-20 सालों से मैं अपना नाम पता बदल कर चित्रकूट में बाबा बनकर रह रहा था।

पुलिस अधीक्षक ने अभियुक्त का आपराधिक इतिहास बताते हुए काह कि उस पर औरैया, जालौन, भिण्ड व कानपुर देहात जनपदों में वर्ष 1997 से 2000 के बीच 24 मुकदमा दर्ज हैं। बताया कि अभियुक्त को पकड़ने वाली टीम को उचित धनराशि से पुरस्कृत किया जाएगा।
रिपोर्ट – शिव प्रताप सिंह सेंगर

About reporter

Check Also

उत्तर रेलवे ने स्वतंत्रता दिवस हर्षाेल्लास और उत्साह के साथ मनाया

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ। उत्तर रेलवे ने आज स्वतंत्रता दिवस 2022 ...